comScore

पूरे विदर्भ पर मेघ मेहरबान, जलाशयों में अच्छा जलसंचय, भारी बारिश के आसार

पूरे विदर्भ पर मेघ मेहरबान, जलाशयों में अच्छा जलसंचय, भारी बारिश के आसार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र तैयार होने व छत्तीसगढ़ तथा पूर्व मध्यप्रदेश में ऊपरी हवा में चक्रवात बनने से नागपुर व आस-पास के जिलों में और दो-तीन दिनों तक बारिश होने के आसार हैं। बारिश के चलते तापमान में कमी भी जारी रहेगी। नागपुर में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है। सोमवार को नागपुर में अधिकतम तापमान 29.5 डिग्री व न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री सेल्सियस रहा। सोमवार को जिले में 26.2 मिमी. वर्षा हुई। 

तापमान में कमी

मौसम विभाग के अनुसार, बारिश होने के साथ ही तापमान में कमी आ रही है। रविवार की अपेक्षा सोमवार को अधिकतम तापमान में ढाई डिग्री की कमी आई। सोमवार को अधिकतम तापमान  29.5 डिग्री रहा। दो दिन तक इसमें एक-दो डिग्री की और कमी आ सकती है।  

सिलसिला जारी

भंडारा, गडचिरोली, चंद्रपुर, यवतमाल व गोंदिया में भी कुछ-कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। बारिश का सिलसिला और दो तीन दिनों तक चलेगा। बादल छाए रहेंगे। क्षेत्र के किसानों में हर्ष है, क्योकि वे आसमानी बारिश पर टक-टकी लगाए हुए हैं।

गोसीखुर्द के 13 गेट आधे मीटर तक खोले

मध्यप्रदेश के सिवनी जिला स्थित संजय सरोवर बांध के 2 गेट खोलने व भंडारा जिले में हो रही मूसलाधार बारिश से वैनगंगा नदी के जलस्तर में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। भंडारा जिले के अन्य बांध भी लबालब हो चुके हैं। 

गोसीखुर्द में 62.26 फीसदी पानी

बता दें कि गोसीखुर्द प्रकल्प 62.26 फीसदी भर चुका है। गोसीखुर्द प्रकल्प के 13 गेट 0.50 मीटर खोले गए हैं। यहां बता दें कि बीते वर्ष आज की तारीख तक गोसीखुर्द मात्र 37.40 फीसदी तक ही भरा था। 

सतर्क रहने की चेतावनी

मौसम जानकारों के अनुसार, भंडारा जिले में तेज बारिश की संभावना बनी हुई है। घने बादल छाए हुए हैं। जिला आपदा प्रबंधन विभाग ने जिले में नदी के किनारे बसे गांव के नागरिकों को सतर्क रहने की चेतावनी दी है। इससे बांधों में और पानी भरने की संभावना जताई गई है। 

कमेंट करें
pDP6q