comScore

ICC ने जिम्बाब्वे क्रिकेट पर तत्काल प्रभाव से लगाया बैन

ICC ने जिम्बाब्वे क्रिकेट पर तत्काल प्रभाव से लगाया बैन

हाईलाइट

  • ICC ने जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से किया बैन
  • जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के कामकाज में सरकारी हस्तक्षेप के कारण लिया फैसला

डिजिटल डेस्क। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने जिम्बाब्वे क्रिकेट (ZC) को तत्काल प्रभाव से बैन कर दिया है। गुरुवार को ICC की सालाना बैठक में जिम्बाब्वे क्रिकेट पर सर्वसहमति के साथ ये फैसला लिया गया है। जिम्बाब्वे पर ये बैन इसलिए लगाया गया, क्योंकि वो बोर्ड के कामकाज में सरकारी हस्तक्षेप को खत्म करने के अपने वादे को पूरा करने में सफल नही हो पाया है। 

ICC ने अपने बयान में कहा है कि, जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट लोकतांत्रिक तरीके से निष्‍पक्ष चुनाव कराने में नाकाम रहा। इसके अलावा जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड सरकारी दखलअंदाजी को खत्म करने में भी असफल रहा है। जिसके कारण जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड पर यह कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही अब ICC फंडिंग जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को नहीं मिलेगी। वहीं देश की प्रतिनिधि टीमें ICC इवेंट्स में हिस्सा भी नहीं ले सकेंगी। इसके कारण अब अक्टूबर में पुरुषों के टी-20 वर्ल्ड कप क्वालिफायर में जिम्बाब्वे की भागीदारी पर भी खतरा है। 

ICC के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने कहा कि, जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड  ने ICC के संविधान को उल्लंघन किया है इसी वजह से उनपर बैन लगाया गया है। उन्होंने कहा, हमने किसी सदस्य देश को बैन करने का फैसला बहुत सोच समझ कर लिया है। हम चाहते हैं कि हमारा खेल भी राजनीतिक दखल से दूर रहे। जिम्बाब्वे में जो हुआ वो ICC के संविधान का गंभीर उल्लंघन है और हम इस स्थिति को ऐसा ही नहीं बने रहने दे सकते। ICC चाहता है कि, जिम्बाब्वे में क्रिकेट जारी रहे, लेकिन ऐसा ICC के संविधान के नियमों के अनुरूप हो। 

इस बैन के बाद अब जिम्बाब्वे तब तक इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेल पाएगा, जब तक ICC उन पर से ये बैन ना हटाएगा। हाल ही में जिम्बाब्वे ने आयरलैंड के खिलाफ वनडे और टी-20 सीरीज खेली थी। 14 जुलाई को दोनों के बीच आखिरी टी-20 मैच खेला गया था। बता दें कि हाल ही में सरकार के खेल एवं मनोरंजन आयोग के जरिए जिम्बाब्वे क्रिकेट को संवैधानिक नियमों का उल्लघंन करने के कारण निलंबित किया गया था।

कमेंट करें
7Ariu