comScore

महिलाओं के लिए पहली इलेक्ट्रिक बस ‘तेजस्विनी’ का लोकार्पण

September 11th, 2019 14:40 IST
महिलाओं के लिए पहली इलेक्ट्रिक बस ‘तेजस्विनी’ का लोकार्पण

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  आज शहर का चौतरफा विकास हुआ है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस व केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी की संकल्पना से शहर में विविध विकास काम शुरू है। केवल सीमेंट रास्ते और उड़ानपुल के कारण नहीं, बल्कि शहर के शाश्वत विकास के लिए दोनों नेता कार्य कर रहे हैं। दोनों नेताओं की पहल से नागरिकों की सुरक्षा के लिए अग्निशमन केंद्र व महिलाओं की सुविधा के लिए ‘तेजस्विनी’ इलेक्ट्रिक बस शुरू की गई है। इलेक्ट्रिक बस प्रदूषण मुक्ति की दृष्टि से महत्वपूर्ण कदम है। बढ़ते प्रदूषण को ध्यान में रखकर 2030 तक पेट्रोल, डीजल के वाहन पूरी तरह बंद होंगे। जिस कारण सभी वाहन सीएनजी पर चलेंगे। भविष्य की यह समस्या देखते हुए नागपुर महानगरपालिका ने ‘तेजस्विनी’ इलेक्ट्रिक बस सहित शहर में विविध स्थानों पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन बनाए जाएंगे।  यह प्रतिपादन महापौर नंदा जिचकार ने किया। 

नागपुर महानगरपालिका प्रभाग 36 अंतर्गत त्रिमूर्तिनगर जलकुंभ  के पास रिंग रोड, भामटी में बनाए गए त्रिमूर्तिनगर अग्निशमन केंद्र और खास महिलाओं की सुविधा के लिए मनपा के परिवहन काफिले में दाखिल होने जा रही इलेक्ट्रिक पर संचालित ‘तेजस्विनी बस’ सेवा का मंगलवार को महापौर ने लोकार्पण किया। समारोह में प्रमुख अतिथि के रूप में मनपा सत्तापक्ष नेते संदीप जोशी, आयुक्त अभिजीत बांगर, परिवहन समिति सभापति जितेंद्र) कुकडे, अग्निशमन समिति सभापति एड. संजयकुमार बालपांडे, शिक्षण समिति सभापति दिलीप दिवे, लक्ष्मीनगर जोन सभापति प्रकाश भोयर, अग्निशमन समिति उपसभापति निशांत गांधी, शिक्षण समिति उपसभापति प्रमोद तभाने आदि  उपस्थित थे। 

 त्रिमूर्ति नगर में आधुनिक अग्निशमन केंद्र तैयार
महापौर ने कहा कि नागरिकों को आपातकालीन सेवा देने के लिए शहर में अग्निशमन केंद्र बनाया गया है। इसी श्रृंखला में त्रिमूर्ति नगर में आधुनिक अग्निशमन केंद्र तैयार किया गया है। नागरिकों को 24 घंटे सेवा उपलब्ध हो, इसके लिए केंद्र से लगकर 12 निवासी घरकुल तैयार किए गए हैं। इसका निश्चित ही नागरिकों को फायदा होगा। हालांकि शहर में अग्निशमन केंद्र की संख्या कम है। जिस कारण आधुनिक अग्निशमन केंद्र की संख्या बढ़ाने के लिए मनपा प्रयास करेगी।

अगले साल तक 100 इलेक्ट्रिक बसें : कुकड़े 
परिवहन समिति सभापति जितेंद्र (बंटी) कुकड़े ने तेजस्विनी इलेक्ट्रिक बस की संकल्पना स्पष्ट की। अंतिम व्यक्ति तक सेवा पहुंचने के विजन को ध्यान में रखकर कार्य किया जा रहा है। शहर के प्रत्येक व्यक्ति को सेवा पहुंचाते समय महिला की सुरक्षा और सुविधा के लिए तेजस्विनी इलेक्ट्रिक बस शुरू की गई है। शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए अगले वर्ष तक नागपुर शहर में 100 इलेक्ट्रिक बस सेवा देगी। साल भर में मनपा के परिवहन सेवा में सभी 427 बसेस सीएनजी में परिवर्तित की जाएगी। कार्यक्रम का संचालन अग्निशमन समिति के उपसभापति िनशांत गांधी और आभार प्रदर्शन मुख्य अग्निशमन अधिकारी राजेंद्र उचके ने किया।

कम रहेगा इलेक्ट्रिक बसों का किराया : आनंद स्वरूप
मंगलवार को शहर में ओलेक्ट्रा कंपनी की पांच इलेक्ट्रिक बसें लॉन्च की गईं। इस कार्यक्रम के संबंध में नागपुर आए कंपनी के सीओओ आनंद स्वरूप ने संवाददाताओं को बताया कि कंपनी द्वारा लॉन्च की गई बसें केवल महिलाओं के लिए रहेंगी। इसके लिए 12 ड्राइवरों को ट्रेनिंग दी गई है। इन बसों के लिए लकड़गंज स्थित एसटी डिपो पर चार्जिंग स्टेशन का निर्माण किया गया है। नागपुर महानगरपालिका द्वारा शहर में इन बसों का संचालन किया जाएगा। बसों का किराया भी वहीं निर्धारित करेंगे। डीजल बस से इलेक्ट्रिक बस का किराया कम रहेगा। श्री स्वरूप ने बताया कि सभी इलेक्ट्रिक बसें एयर कंडिशनर होंगी। महिलाएं पुराने किराए पर इन बसों में सफर कर पाएंगी। कंपनी का मैन्युफैक्चरिंग प्लांट हैदराबाद में है। फिलहाल प्लांट में प्रति वर्ष 200 बसों का निर्माण किया जाता है। अगले साल से प्लांट का विस्तार होगा, जिसके बाद कंपनी प्रतिवर्ष 10 से 12 हजार बसों का निर्माण करेगी। 
 

कमेंट करें
HExb8