comScore

आईटीआई में होगी विमान बनाने की पढ़ाई , फ्रांस की दसॉल्ट एविएशन से एग्रीमेंट

आईटीआई में होगी विमान बनाने की पढ़ाई , फ्रांस की दसॉल्ट एविएशन से एग्रीमेंट

डिजिटल डेस्क, नागपुर। केंद्र सरकार के कौशल विकास मंत्रालय ने नागपुर के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) में 'एयरोनॉटिकल स्ट्रक्चर इक्विपमेंट फिटर' नामक पाठ्यक्रम शुरु करने का निर्णय लिया है, जो विमान के छोटे पुर्जों की डिजाइन से लेकर उत्पादन तक के कार्य पर प्रशिक्षण देगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने राफेल निर्माता फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एविएशन से करार किया है। डासॉल्ट एविएशन इस पाठ्यक्रम को पढ़ाने के लिए जरूरी उपकरण और अन्य सामग्री संस्था को उपलब्ध कराएगी। महाराष्ट्र सरकार ने हाल ही में जीआर जारी करके आईटीआई में पाठ्यकम के तीन सेक्शन को सेल्फ फायनांस तौर पर मंजूरी दी है। 105 विद्यार्थियों की प्रवेश क्षमता होगी।  विद्यार्थी केंद्रीय प्रवेश प्रक्रिया के तहत इसमें प्रवेश ले सकेंगे। फिलहाल प्रयोगात्मक तौर पर तीन वर्ष के लिए यह प्रोजेक्ट शुरु किया जा रहा है। इन तीन वर्षों तक पाठ्यक्रम पढ़ाने के लिए जरूरी मनुष्यबल और अन्य सामग्री राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी।  

बता दें कि, दसॉल्ट एविएशन भारतीय रक्षा मंत्रालय को जरूरी सामग्री पहुंचाता है। राफेल लड़ाकू विमान उसमें मुख्य है। जल्द ही राफेल को वायुसेना में शामिल किया जाना है। ऐसे में राफेल के रख-रखाव और दुरुस्ती के लिए देश में मनुष्यबल तैयार करना जरूरी है। वही सरकार एविएशन सेक्टर के विकास पर भी जोर दे रही है। नागपुर को एविएशन हब बनाने की कई घोषणाएं हो चुकी हैं। लिहाजा नागपुर में इस पाठ्यक्रम को शुरू किया जा रहा है। सरकार के अनुसार देश की अर्थव्यवस्था और उद्योग क्षेत्र की मांग की पूर्ति करने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर के मनुष्यबल की जरूरत है। विशेष रूप से व्यवसायिक उद्योगों की मांग और पूर्ति के बीच की खाई कम करने की जरूरत है। इसलिए निरंतर नए और जरूरत वाले पाठ्यक्रमों को बढ़ावा दिया जा रहा है। नागपुर से इसकी शुरुआत की गई है।

हमारे लिए गर्व की बात 

राफेल लड़ाकू विमान के लिए जरूरी सामग्री की देखभाल और दुरुस्ती के लिए  मनुष्यबल की जरूरत होगी। इस पाठ्यक्रम के जरिए इस जरूरत की पूर्ति होगी। हमारे यहां यह पाठ्यक्रम शुरू होना खुशी और गर्व की बात है। - हेमंत आवारे, प्राचार्य आईटीआई नागपुर 
 

कमेंट करें
LDoJm