comScore

SCO समिट में हिस्सा लेने किर्गिस्तान पहुंचे पीएम मोदी, पुतिन- जिनपिंग के साथ की मीटिंग


हाईलाइट

  • शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) शिखर सम्मेलन 14 जून तक चलेगा
  • पीएम मोदी शी जिनपिंग और व्लादिमीर पुतिन से करेंगे द्विपक्षीय वार्ता 

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (13 जून) को बिश्केक पहुंचे। SCO शिखर सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और उसके बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ डेलिगेशन लेवल की वार्ता की। आम चुनावों में जीत के बाद पीएम मोदी ने शी जिनपिंग को उनके बधाई संदेश के लिए धन्यवाद दिया। वहीं पीएम मोदी ने पुतिन से कहा, 'मैं अमेठी में राइफल निर्माण इकाई के लिए आपके समर्थन के लिए बहुत आभारी हूं।'

किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में SCO का दो दिवसीय वार्षिक शिखर सम्मेलन शुरू हो रहा है। खास बात यह है कि, पीएम मोदी का विमान पाकिस्तान के एयरस्पेस से नहीं गुजरेगा। पीएम मोदी ओमान, ईरान और मध्य एशिया के देशों के रास्ते से बिश्केक पहुंचेंगे। उनकी कुछ द्विपक्षीय वार्ता आज शाम को ही होंगी। देर शाम पीएम किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव द्वारा दिए गए रात्रिभोज में शरीक होंगे।

एससीओ के शिखर सम्मेलन में पहुंचने से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘इस सम्मेलन में वैश्विक सुरक्षा की स्थिति, बहुपक्षीय आर्थिक सहयोग, लोगों से लोगों का संपर्क बढ़ाने समेत अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय महत्व के प्रासंगिक विषयों पर चर्चा होने की उम्मीद है। मेरी इस सम्मेलन से इतर कई नेताओं से मुलाकात करने और द्विपक्षीय बातचीत करने की भी योजना है।

सम्मेलन की मेजबानी कर रहे किर्गिस्तान का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, भारत ने किर्गिस्तान की अध्यक्षता को पूरा सहयोग दिया है। सम्मेलन के समाप्त होने के बाद 14 जून को मैं किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव से द्विपक्षीय वार्ता करूंगा।

बता दें कि समिट की मुख्य बैठक 14 जून को है। पीएम मोदी 14 जून को सम्मेलन को संबोधित करेंगे उसी शाम नई दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। वापसी से पहले पीएम मोदी चीन, रूस और किर्गिस्तान के राष्ट्रपति से मिलेंगे। इस समिट में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान भी शामिल होंगे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, भारत और पाकिस्तान के नेताओं के बीच फिलहाल द्विपक्षीय मुलाकात का कोई कार्यक्रम नहीं है। न ही किसी तरह की औपचारिक भेंट का कार्यक्रम है।

कमेंट करें
OlFDB