comScore

राफेल इंजन बनाने वाली कंपनी ने राजनाथ से कहा, टैक्स सिस्टम से आतंकित तो नहीं करेंगे?

राफेल इंजन बनाने वाली कंपनी ने राजनाथ से कहा, टैक्स सिस्टम से आतंकित तो नहीं करेंगे?

हाईलाइट

  • राफेल का इंजन बनाने वाली कंपनी भारत में 150 मिलियन डॉलर का निवेश करने जा रही है
  • कंपनी के सीईओ ने राजनाथ सिंह से कहा- टैक्स सिस्टम से आतंकित तो नहीं करेंगे?
  • राजनाथ सिंह ने भी उन्हें आश्वासन दिया कि भारत 'सही वातावरण' प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है

डिजिटल डेस्क, पेरिस। राफेल फाइटर जेट का इंजन बनाने वाली फ्रांसीसी कंपनी 'सफरान' भारत में लगभग 150 मिलियन अमरीकी डॉलर का निवेश करने की योजना बना रहा है। सफरान के सीईओ ओलिवियर एंड्रीज ने बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से आग्रह किया कि वह यह सुनिश्चित करें कि इंडियन टैक्स और कस्टम्स से उनकी कंपनी 'आतंकित' न हो। भारत कंपनी को निवेश के लिए अनुकूल वातावरण प्रदान करें।

राजनाथ सिंह ने भी उन्हें आश्वासन दिया कि भारत मेक इन इंडिया पहल के तहत निवेश के लिए 'सही वातावरण' प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने सफरान को अगले साल फरवरी में लखनऊ में डेफएक्सपो में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया। कंपनी ने भी राजनाथ के न्योते को स्वीकार कर लिया। सफरान की असेंबली लाइन पेरिस के पास है जहां पर वह सिविल और सैन्य विमान के लिए इंजन डिजाइन और विकसित करता है।

बता दें कि राजनाथ सिंह बुधवार को कंपनी की असेंबली लाइन का दौरा करने पहुंचे थे। राफेल जेट में लगे M88 इंजनों के निर्माता ने इस दौरान रक्षा मंत्री को इसकी फैसिलिटी का प्रेजेंटेशन दिया। प्रेजेंटेशन के दौरान सफरान के सीईओ ने ट्रेनिंग और मेंटेनेंस के लिए भारत में लगभग 150 मिलियन अमरीकी डालर के निवेश की योजना का खुलासा किया। उन्होंने रक्षा मंत्री को यह भी बताया कि सफरान हैदराबाद में पहले ही प्रशिक्षण केंद्र का निर्माण कर चुके हैं, जिसका उद्घाटन 2010 में हुआ था और कौशल विकास के लिए सालाना 500 इंजीनियरों को प्रशिक्षित करता है।

सीईओ ने कहा कि 'भारत एविएशन के लिए तीसरा सबसे बड़ा कमर्शियल मार्केट बनने के लिए तैयार है और हम ग्राहकों की सेवा करने के लिए भारत में एक मजबूत मेंटेनेंस और रिपेयर बेस बनाने के इच्छुक हैं।' उन्होंने कहा, 'लेकिन हमें यह सुनिश्चित करने की जरुरत है कि इंडियन टैक्स और कस्टम सिस्टम हमें आतंकित नहीं कर रही है।' एंड्रीज ने कहा कि 'एयर इंडिया, स्पाइस जेट और गो एयर जैसी भारतीय एयरलाइंस हमारी ग्राहक हैं।' हमा भारत में अपनी विस्तार योजनाओं को लेकर आशावादी और सकारात्मक है।

राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, 'आज पेरिस के पास विलारोचे में सफरान के इंजन मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी का दौरा किया। सफरान को इंजन बनाने की क्षमताओं के लिए जाना जाता है। उन्होंने राफेल के लिए इंजन भी विकसित किया है।' राजनाथ ने कहा, 'सफरान मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी में काम करने वाले भारतीय मूल के कुछ युवा और उज्ज्वल इंजीनियरों से मिलकर खुशी हुई। उनका तकनीकी ज्ञान और कड़ी मेहनत प्रभावशाली और प्रेरणादायक है।'
 

कमेंट करें
hpDax