comScore

अनाथ किशोरी को नींद की दवा खिलाकर रिश्तेदार करते थे यौन शोषण

अनाथ किशोरी को नींद की दवा खिलाकर रिश्तेदार करते थे यौन शोषण

डिजिटल डेस्क,नागपुर। तहसील थाना क्षेत्र में एक घिनौना वाकया उजागर हुआ है। रिश्तेदारों ने ही नींद की गोलियां खिलाकर किशोरी के यौन शोषण करने का प्रयास किया। खुलासे से पुलिस भी सकते में आ गई। पिता-पुत्रों समेत तीन रिश्तेदार संदेह के दायरे में आए हैं। 

यह है मामला 

पीड़िता (16) किशोरी तहसील थाना क्षेत्र निवासी है। बचपन में ही उसके माता-पिता का देहांत हो चुका है। तब से वह अपने रिश्तेदारों के घर रह रही है। कभी मामा के घर तो कभी बड़े पिता के यहां। यह बात 6 जनवरी 2015 से अब तक की है।  इस अवधि के दौरान रात के वक्त नींद की गोलियां अलग-अलग कारण बताकर किशोरी को खिलाई गईं।  गोलियों के सेवन से किशोरी जब गहरी नींद में रहती थी, चोरी-छिपे किशोरी से शारीरिक छेड़छाड़ किया जाता।। करीब चार वर्ष तक चले इस घिनौने खेल में किशोरी से जबरदस्ती का प्रयास भी किया गया। इसकी पोल तब खुली जब दूर से आए एक रिश्तेदार ने उसकी हालत देखकर पूछ लिया कि वह हमेशा सोई-सोई जैसी क्यों रह रही है? लग रहा है कि नींद की खुमारी में हो। तबीयत खराब है क्या, तब पीड़िता ने पूरी बात बता दी। और कहा कि ये लोग मेरे साथ गलत हरकतें कर रहे हैं। इसके बाद उक्त रिश्तेदार ही उसे लेकर थाने पहुंचा। 

अदालत ने पीड़िता को महिला गृह भेजा

पुलिस का मानना है कि अगर किसी को पता चला भी होगा तो बदनामी के डर से किसी ने आवाज नहीं उठाई। घटित प्रकरण का पता चलते ही किशोरी ने संबंधित थाने में इसकी शिकायत की। निरीक्षक मालवीय ने बताया कि उनके जांच के दायरे में बालिका के मामा, बड़े पिता और उसका पुत्र है। फिलहाल इन तीनों में से उस्मान और मोहम्मद शकीर अंसारी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।  पुलिस ने किशोरी को संबंधित अदालत में पेश किया। वहां से उसे काटोल रोड स्थित महिला गृह भेज दिया है।  

महिला अधिकारी के सामने लेंगे बयान 

अभी तक पीड़ित किशोरी से घटित प्रकरण के संबंध में पूछ-ताछ नहीं हुई है और न ही उसका विस्तृत बयान लिया गया है। महिला अधिकारी की मौजूदगी में बयान दर्ज किया जाना है।

कमेंट करें
zteu0