comScore

UP की सड़कों पर दौड़ेंगी ‘भगवा’ बसें, योगी ने दिखाई हरी झंडी

October 12th, 2017 08:35 IST
UP की सड़कों पर दौड़ेंगी ‘भगवा’ बसें, योगी ने दिखाई हरी झंडी

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। योगी सरकार ने बुधवार को केसरिया रंग वाली संकल्प बस सेवा की शुरुआत कर दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 50 केसरिया बसों को हरी झंडी दिखा कर इस बस सेवा की शुरूआत कर दी। उत्तर प्रदेश के मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने बताया कि राज्य के 38254 गांवों की पहचान की गई है, जहां इस सेवा को उपलब्ध कराया जाना है।

राज्य सरकार की योजना हर साल 9563 गांवों को हर साल संकल्प योजना से जोड़ने की है। इस तरह चार सालों में हम राज्य के सभी गांवों को जिला मुख्यालय से जोड़ने में सफल हो जाएंगे। उन्होंने बताया राज्य सड़क परिवहन निगम की बसें 5000 गांवों को जिला मुख्यालय से पहले से जोड़ती हैं। इस योजना के माध्यम से हम अगले चार सालों में सभी गांवों को जिला मुख्यालय से जोड़ने में सफल हो जाएंगे। 

गांवों को शहरों से जोड़ेगी बस सेवा

उत्तर प्रदेश सरकार ने इन बसों की शुरुआत ग्रामीण क्षेत्रों को शहरी क्षेत्रों को जोड़ने के लिए किया है। आपको याद होगा कि बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में भी इसे शामिल किया था। पंडित दीनदयाल उपाध्याय शताब्दी वर्ष पर लखनऊ के पांच कालीदास मार्ग पर आयोजित कार्यक्रम में योगी ने इस संकल्प बस सेवा की शुरुआत की। यह बस सेवा ग्रामीण इलाकों को शहरी क्षेत्रों से जोड़ने का काम करेगी। 

सड़क संपर्क विकसित करने पर जोर

इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 22 करोड़ की आबादी को बेहतर परिवहन सेवा देने के लिए उनकी सरकार कृत-संकल्प है। उन्होंने कहा इस बस सेवा से गांवों को जिला मुख्यालयों से जोड़ा जाएगा। सरकार ने गरीबों की सुविधा के लिए इन बसों को शुरू किया है। उन्होंने कहा शहरी इलाकों के साथ ही ग्रामीण इलाकों में बेहतर यातायात सुविधाएं उपलब्ध कराना हमारी पहली प्राथमिकता है। 

शहीदों के गांवों में बनेंगे गौरव पथ

मुख्यमंत्री ने कहा प्रदेश सरकार जल्द ही शहीदों के गांवों को शहरों से जोड़ने के लिए वहां गौरव पथ का निर्माण कराएगी। उन्होंने कहा बिगड़ी परिवहन सेवा को सुधारने के लिए डग्गामार बसों के खिलाफ हमारी सरकार ने कार्रवाई की है। अच्छी परिवहन सेवा के लिए अच्छी सड़कें भी चाहिए। उन्होंने कहा केवल सब्सिडी पर नजर रखने और आय के स्रोत न तलाशने से काम नहीं चलने वाला। आय के स्रोत को बढ़ाने पर काम करने की जरूरत है। हर गांव को किसी न किसी बस सेवा से जोड़ा जाएगा।

बेहद कम रखा जाएगा किराया

संकल्प बस सेवा को समाजवादी पार्टी के कार्यकाल में शुरू की गई लोहिया ग्रामीण बस सेवा की भांति किराए में 25 फीसदी डिस्काउन्ट तक सीमित नहीं रहेगी। इसका किराया बेहद रियायती रखे जाने की योजना है। ताकि हर आदमी इसका लाभ उठा सके। उल्लेखनीय है कि भाजपा के पहले राज्य की सत्ता में रहने वाली समाजवादी पार्टी ने ग्रामीण इलाकों को जिला मुख्यालय से जो़ड़ने वाली रियायती बस सेवा शुरू की थी। जिस पर 25 फीसदी डिस्काउन्ट दिया जाता था। इस सेवा के स्थान पर भाजपा ने संकल्प बस सेवा की शुरूआत की है। 

कमेंट करें
s8uwf