गुजरात : आयुष्मान भारत योजना से देश के गरीबों को 7 हजार करोड़ रुपये का लाभ हुआ: पीएम मोदी

June 10th, 2022

हाईलाइट

  • सरकार की प्राथमिक जिम्मेदारी

डिजिटल डेस्क, अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना से देश के गरीबों को 7,000 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है।

उन्होंने नवसारी में एमए नायक हेल्थकेयर कैंपस और निराली मल्टीस्पेशलिटी कैंसर अस्पताल का उद्घाटन करने के बाद यह बात कही। अस्पताल एलएंडटी ग्रुप के चेयरमैन अनिल नायक की पोती निराली की याद में बनाया गया है, जिनकी ढाई साल की उम्र में कैंसर से मौत हो गई थी।

इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा, तीन साल पहले, मुझे यहां एक कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखने का अवसर मिला था। आज इसका उद्घाटन किया जा रहा है। यह निराली को एक भावपूर्ण श्रद्धांजलि है, जिसे हमने समय से बहुत पहले खो दिया। अस्पताल निराली के परिवार के ²ढ़ संकल्प को दर्शाता है कि किसी को भी इस तरह के आघात का सामना नहीं करना चाहिए। नवसारी और आसपास के जिलों के लोगों को आपातकालीन उपचार की सुविधा उपलब्ध होगी।

पीएम ने कहा कि गरीबों को सशक्त बनाने के लिए, स्वास्थ्य देखभाल को सुलभ बनाना आवश्यक था। उन्होंने कहा, हम पिछले आठ वर्षों से स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिए एक समग्र ²ष्टिकोण के साथ काम कर रहे हैं। हमने अच्छे पोषण, स्वच्छ जीवन शैली, निवारक स्वास्थ्य से संबंधित व्यवहार संबंधी मुद्दों पर जोर दिया है और यह सरकार की प्राथमिक जिम्मेदारी है।

मोदी ने अपनी सरकार की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनकी सरकार गरीब और मध्यम वर्ग को इलाज के खर्च से बचाने का प्रयास करती है। यह प्रयास आज महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य को दर्शाता है। स्वास्थ्य संकेतकों में सुधार जारी है। नीति आयोग की तीसरी सतत लक्ष्य सूची में गुजरात पहले स्थान पर है।

उन्होंने कहा, जब मैं मुख्यमंत्री था, हमने मुख्यमंत्री अमृतम योजना शुरू की, जिसके द्वारा गरीब परिवारों को 2 लाख रुपये की सहायता मिलती है। गुजरात के 40 लाख से अधिक गरीब रोगी लाभान्वित हुए हैं। हमने अमृतम योजना की तर्ज पर आयुष्मान भारत की शुरूआत की। इसने आदिवासियों, दलितों, वंचितों के साथ-साथ महिलाओं को भी मदद पहुंचाई है।

उन्होंने कहा, पिछले 20 वर्षों में, गुजरात स्वास्थ्य केंद्रों ने कई नए मील के पत्थर हासिल किए हैं। हर स्तर पर काम हुआ है। चिरंजीवी योजना से शहरों में 600 दीन दयाल औषधालय स्थापित किए गए हैं और 14 लाख गरीब महिलाएं लाभान्वित हुई हैं।

राज्य की परोपकारी परंपरा और जनभागीदारी पर पीएम ने कहा कि जैसे-जैसे क्षमता बढ़ेगी, गुजरात का सेवा मूल्य भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा, हम भारत के आधुनिकीकरण की दिशा में लगातार प्रयास कर रहे हैं। लोगों की भागीदारी जितनी अधिक होगी, देश की क्षमता उतनी ही तेजी से बढ़ेगी और बेहतर परिणाम सामने आएंगे।

पीएम मोदी ने अनिल नायक के परिवार को मल्टीकेयर अस्पताल के लिए बधाई भी दी, जिसमें अस्पताल में कैंसर देखभाल, हृदय, बाल चिकित्सा, सामान्य सर्जरी, विश्व स्तरीय सीटी एवं एमआरआई की आधुनिक सुविधाएं हैं। अस्पताल में कुल 400 बेड होंगे, जिनमें से फिलहाल 100 बेड प्राथमिक आधार पर शुरू किए जाएंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री ने यहां 542 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का भूमिपूजन किया।

 

सोर्स - आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.