दैनिक भास्कर हिंदी: जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद बोले बाबुल सुप्रियो- आसनसोल के सासंद के रूप में काम करता रहूंगा

August 2nd, 2021

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। एक्टिव पॉलिटिक्स से अपने रिटायरमेंट की घोषणा के बाद सोमवार को बाबुल सुप्रियो ने कहा कि वह सांसद के रूप में काम करते रहेंगे। दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक के बाद गायक से नेता बने बाबुल सुप्रियो ने यह बयान दिया। बाबुल सुप्रियो ने यह भी कहा कि वह पश्चिम बंगाल में केवल अपने निर्वाचन क्षेत्र आसनसोल के प्रति अपने संवैधानिक कर्तव्यों का पालन करेंगे, लेकिन राजनीति में भाग नहीं लेंगे।

शनिवार को एक फेसबुक पोस्ट में बाबुल सुप्रियो ने राजनीति छोड़ने के अपने फैसले की घोषणा की थी। आसनसोल से लोकसभा सांसद ने हालांकि स्पष्ट किया था कि वह किसी अन्य पार्टी में शामिल नहीं होंगे और 'टीम प्लेयर' बने रहेंगे। दिलचस्प बात यह है कि बाद में सुप्रियो ने अपने फेसबुक पोस्ट से 'किसी अन्य पार्टी में शामिल नहीं होंगे' वाला हिस्सा हटा दिया था। बाद में उन्होंने एक स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा था मैं किसी अन्य राजनीतिक दल में शामिल नहीं हो रहा हूं।

यह पूछे जाने पर कि क्या कैबिनेट फेरबदल के दौरान उनके नाम पर विचार नहीं करने के भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व के फैसले ने उनकी घोषणा में योगदान दिया? बाबुल सुप्रियो ने कहा: सवाल उठेगा कि मैंने राजनीति क्यों छोड़ी। क्या मंत्री पद से कोई संबंध है जो मैंने खो दिया है? हां है। कुछ हद तक एक लिंक है। बाबुल सुप्रियो ने फेसबुक पर लिखे अपने पोस्ट में ये भी कहा था कि उन्होंने सोशल वर्क के लिए राजनीति जॉइन की थी। उन्होंने कहा, लोगों की मदद करने के लिए पॉलिटिशियन बना रहना जरूरी नहीं है।

बाबुल सुप्रियो पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के दौरान भाजपा के अभियान की अगुवाई करने वाले नेताओं में शामिल थे। सुप्रियो और बंगाल भाजपा प्रमुख दिलीप घोष के बीच तनातनी को भी सुप्रियो के राजनीति छोड़ने के फैसले का एक कारण माना जा रहा है।

खबरें और भी हैं...