यूपी विधानसभा चुनाव 2022: अमित शाह बोले, यूपी में भाजपा की सरकार में अपराध हुआ कम

December 2nd, 2021

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। गृहमंत्री अमित शाह ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि अब उत्तर प्रदेश के क्राइम के आंकड़े देख लीजिए। पहले यूपी में क्राइम चरम पर था। उन्होंने हत्या, लूट और अन्य सभी अपराधों के आंकड़े गिनाते हुए कहा कि अब यूपी में भाजपा की सरकार में अपराध कम हुआ है। गृह तथा सहकारिता मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को सहारनपुर में उत्तर प्रदेश को शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी सौगात दी। उन्होंने मां शाकुंभरी राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया। पश्चिमी उत्तर प्रदेश तथा ब्रज क्षेत्र के बूथ प्रभारी के रूप में अमित शाह की आज पश्चिमी यूपी की पहली यात्रा थी। कहा कि 2017 में हमने वादा किया था कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश को माफिया से मुक्ति दिलाएंगे। अब यहां पर माफिया मुर्गा बनकर पुलिस के सामने सरेंडर कर रहे हैं। माफिया सरकारी संपत्ति पर कब्जा कर बैठे थे, आज यह सम्पत्ति जनता की सपत्ति है। अवैध कत्लखाने चलते थे, योगी आदित्यनाथ सरकार ने उन कत्लखानों को बंद कराया है। यहां पर अपराध में कमी हुई है। पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गुंडे और माफियों का शासन था उससे पश्चिमी उत्तर प्रदेश को मुक्त करवा कर उसका सम्मान लौटाने का काम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया है।

अमित शाह ने कहा, मुख्यमंत्री योगी ने पश्चिमी यूपी का सम्मान बढ़ाने का काम किया है। आज वेस्ट यूपी में किसी मां या बहन को बाहर जाने की जरूरत नहीं है। किसी की मजाल नहीं कोई बहन बेटी से छेड़छाड़ करे। यहां तो एक समय था जब केवल दंगे होते थे। हमारी बेटियों को भी पढ़ाई के लिए दूसरे राज्यों में भेजना पड़ता था, क्योंकि यहां कोई सुरक्षा नहीं थी। आज पश्चिमी यूपी में किसी भी बेटी को पढ़ाई के लिए बाहर नहीं जाना पड़ता है। कोई भी उनके साथ दुर्व्यवहार करने की हिम्मत नहीं करता है। शाह ने पुरानी सरकारों पर हमला करते हुए कहा कि वो तो सिर्फ वादा करते थे, लेकिन पीएम मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू कराकर वादा पूरा किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने तीन तलाक, 370 जैसे कई बड़े मुद्दे खत्म करके लोगों को साबित कर दिखाया है कि भाजपा सरकार में क्या कुछ हुआ है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, पहले की सरकारों के पास कोई एजेंडा नहीं था। शिक्षा के कोई इंतजाम नहीं थे। दंगे होते थे। राज्य पूरी तरह पिछड़ गया था आज उत्तर प्रदेश देश में आगे है। यह वही यूपी है जहां विकास के नाम पर बन्दरबांट होती थी। गन्ने के दाम का भुगतान नहीं होता था। सभी गन्ना किसानों को समय पर भुगतान हो रहा है। अभी तक 1 लाख 42 हजार करोड़ का भुगतान दे दिया। चीनी मिल चल रही हैं। दंगे में सहारनपुर को झोंक दिया जाता था। कहा जाता था कि यहां से कांवड़ यात्रा नहीं निकलेगी। मुजफ्फरनगर दंगे के मुख्य आरोपित को सम्मानित किया जाता था। लखनऊ में सम्मानित किया जाता था। उन्होंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश में सभी पर्व बेहतर ढंग से मनाए जा रहे हैं। होली दीपावली या कावड़ यात्रा सभी शांति से मनाए जा रहे हैं। अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर बन रहा है। आज देश सुरक्षित हाथों में है। विकास हो रहा है। 2017 से पहले दिल्ली की दूरी सात घंटे की थी, अब दो घंटे की है। केन्द्र सरकार ने सड़कों का जाल बिछा दिया। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में विश्वविद्यालय खुल रहे हैं। महाविद्यालय खुल रहे हैं। यहां पर अच्छे रास्ते बन रहे हैं और किसानों के बैंक खाते में पैसा आ रहा है। गरीबों के घर बन रहे हैं, अमन के लिए कानून का राज स्थापित हुआ है। यही सुशासन है। सरकार ने अपना वादा पूरा किया है।

(आईएएनएस)