विधानसभा चुनाव 2022 : कांग्रेस ने मतगणना वाले दिन राज्य पर्यवेक्षकों और प्रभारी नेताओं को राज्यों में उपस्थित रहने को कहा

March 1st, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस ने हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों की 10 मार्च को होने वाली मतगणना के दिन सभी राज्यों के पर्यवेक्षकों और प्रभारी नेताओं को अपने अपने राज्यों में रहने, निर्वाचित प्रतिनिधियों पर नजर रखने तथा मामले की पूरी जानकारी केन्द्रीय नेतृत्व को देने को कहा है। वरिष्ठ पर्यवेक्षकों को मतगणना वाले दिन राज्यों में रहने को कहा गया है। पी चिदंबरम गोवा , जयराम रमेश मणिपुर ,मोहन प्रकाश उत्तराखंड ,भूपेश बघेल उत्तर प्रदेश और अजय माकन पंजाब के पर्यवेक्षक हैं। पार्टी प्रभारियों को भी 10 मार्च से राज्यों में मौजूद रहने को कहा गया है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री दो राज्यों और राजस्थान के मुख्यमंत्री अन्य तीन राज्यों के नतीजों पर ध्यान रखेंगे। कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो पार्टी रायपुर या जयपुर में विधायकों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित करने के लिए विमानों की व्यवस्था करेगी। सूत्रों का कहना है कि वह कांग्रेस विधायकों को अन्य पार्टियों की खरीद फरोख्त से बचाना चाहती है और 10 मार्च के बाद उन्हें किन्ही अन्य स्थानों पर भेजे जाने की संभावना है। रविवार को कांग्रेस के दो मुख्यमंत्रियों अशोक गहलोत और भूपेश बघेल के साथ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से इस मुद्दे पर चर्चा हुई।

कांग्रेस वर्ष 2017 में गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बावजूद सरकार नहीं बना सकी थी क्योंकि उसके विधायकों को खरीद लिया गया था। सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस सभी चार राज्यों और उत्तर प्रदेश में भी इसी तरह की खरीद फरोख्त की आशंका जता रही है। उत्तर प्रदेश में त्रिशंकु विधानसभा रहने के आसार हैं।

(आईएएनएस)