बर्खास्त करने की मांग : कांग्रेस विधायक ने मंत्री को बताया खनन माफिया, दी आत्मदाह की धमकी

July 22nd, 2022

हाईलाइट

  • प्रमोद जैन भाया राजस्थान सरकार में खान मंत्री हैं

डिजिटल डेस्क, जयपुर। पूर्व मंत्री और सांगोद से कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने अवैध खनन के मुद्दे पर अपनी ही सरकार के एक मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोलकर उन्हें तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है। साथ ही उन्होंने उनकी याचिका पर सुनवाई नहीं होने पर आत्मदाह की भी धमकी दी है।

राजस्थान के भरतपुर जिले में बुधवार को एक साधु द्वारा आत्मदाह करने के प्रयास के बाद से सियासत तेज हो गई है। जिले के पासोपा गांव में अवैध खनन के विरोध में साधु ने खुद को आग लगा ली। सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर कहा है कि यदि प्रदेश में खनन माफिया को काबू में करना है तो खान मंत्री को तत्काल बर्खास्त किया जाए। उन्होंने आगे कहा, मैंने आपको कई पत्र लिखे हैं। यदि अवैध खनन को रोकने का एकमात्र उपाय भरतपुर के साधु का मार्ग है, तो कृपया मेरे इस प्रभावी मार्ग का अनुसरण करने और आपसे बात करने की प्रतीक्षा करें।

सिंह ने कहा, मैं आपका ध्यान भरतपुर के पहाड़ों में खनन के खिलाफ 551 दिनों तक धरने पर बैठे साधुओं और खुद को आग लगाने वाले साधु की ओर दिलाना चाहता हूं। अवैध खनन का सीधा संबंध गुंडागर्दी से है और यह सरकार के संरक्षण के बिना संभव नहीं है। साधु की आत्महत्या की कोशिश के बाद आपने प्रेस कांफ्रेंस कर जिला कलेक्टर व जिला प्रशासन को खनन माफिया की पहचान कर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। आपकी प्रेस कांफ्रेंस में राज्य के खान मंत्री आपके साथ थे। प्रमोद जैन भाया राजस्थान सरकार में खान मंत्री हैं।

सिंह ने कहा कि प्रदेश के सबसे बड़े खनन माफिया खान मंत्री हैं, उनके गृह जिले में अवैध खनन का कीर्तिमान स्थापित किया गया है। बारां जिले में मंत्री द्वारा कलेक्टर, संभागीय वन अधिकारी और अन्य उच्च पदों पर भ्रष्ट अधिकारियों का चयन किया जाता है। बारां जिले में अवैध खनन से कई लोगों की मौत हो रही है।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

खबरें और भी हैं...