टेनी को बड़ी जिम्मेदारी: विरोध के बावजूद अजय मिश्रा टेनी का बढ़ा कद, बीजेपी ने दी बड़ी चुनावी जिम्मेदारी

December 28th, 2021

डिजिटल डेस्क,लखनऊ।  लखीमपुर खीरी कांड में बेटे का नाम आने के बाद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के खिलाफ विपक्ष की बगावत तेज होती जा रही है। पूरे सदन में टेनी को मंत्रीपद से हटाने की मांग होती रही। सत्र में इस मांग पर जबरदस्त हंगामा भी हुआ। इसके बावजूद बीजेपी टस से मस नहीं हुई न ही टेनी को विपक्ष का विरोध हिला सका।

चुनाव जैसे जैसे नजदीक आ रहे हैं बीजेपी की ये कमजोरी भी साफ नजर आने लगी है कि उसके लिए टेनी को मनाकर रखना कितना जरूरी है। न सिर्फ टेनी को बनाए रखना बल्कि उन्हें अहम जिम्मेदारी सौंपना भी जरूरी है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बीजेपी ने हाल ही में यूपी के ब्राह्मणों को रिझाने के लिए अलग योजना पर काम शुरू किया है। इसकी जिम्मेदारी धर्मेंद्र प्रधान को सौंपी गई है। दिल्ली में उनके घर बैठक हुई। इस बैठक में अजय मिश्रा टेनी भी शामिल हुए। बैठक में तय हुआ है कि यूपी की सभी विधानसभा सीटों पर ब्राह्मण नेता ही जाएंगे और उन्हें सरकार की उपलब्धियां गिनाएंगे।

यूपी में ब्राह्मणों का वोट तकरीबन 12 से 14 फीसदी है। आमतौर पर ब्राह्मण वोट यूपी में निर्णायक भूमिका में रहें हैं। लेकिन बीते कुछ सालों से उन्हें सत्ता में भागीदारी नहीं मिली है। नारायण दत्त तिवारी के बाद यूपी में कोई ब्राह्मण मुख्यमंत्री भी नहीं रहा। लिहाजा अब यूपी में ब्राह्मण वोटर्स को लुभाना मुश्किल काम है। जिसकी जिम्मेदारी 16 नेताओं पर हैं टेनी उन्हीं में से एक हैं।
 

खबरें और भी हैं...