दैनिक भास्कर हिंदी: एग्जिट पोल : नवगठित जजपा के हरियाणा में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

October 21st, 2019

हाईलाइट

  • एग्जिट पोल : नवगठित जजपा के हरियाणा में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

नई दिल्ली, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)। हरियाणा की प्रमुख क्षेत्रीय पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) से अलग होकर अस्तित्व में आई जननायक जनता पार्टी (जजपा) द्वारा हरियाणा में उसके पहले विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना एग्जिट पोल में जताई गई है।

जजपा के प्रमुख पूर्व उप-प्रधानमंत्री देवीलाल के पोते अजय चौटाला हैं। उनका अपने पिता और चार बार हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे ओम प्रकाश चौटाला और भाई अभय चौटाला के साथ मनमुटाव हो गया था, जिसके बाद उन्होंने अपनी अलग पार्टी बनाई।

आईएएनएस व सी-वोटर एग्जिट पोल के अनुसार, भाजपा के 44.1 और कांग्रेस के 27.7 फीसदी के मुकाबले जजपा को 16.6 फीसदी वोट मिलने की संभावना है।

एग्जिट पोल ने संभावना जताई है कि पार्टी को बांगर क्षेत्र में सबसे अधिक 23.3 फीसदी वोट हासिल हो सकते हैं। इसके बाद जजपा को जाटलैंड में 16.6 फीसदी, कुरुक्षेत्र में 15.6 फीसदी और अहिरवाल में 13.2 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं।

जजपा ने विधानसभा चुनावों में सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ा है। इसके संस्थापक अजय चौटाला अपने पिता के साथ उनके 10 साल के कार्यकाल के दौरान एक शिक्षक भर्ती घोटाले में दोषी पाए जाने के बाद जेल में हैं।

इनेलो के 19 विधायकों में से चार जजपा में शामिल हो गए थे।

अलग पार्टी बनने के बाद अमेरिका में कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में स्नातक दुष्यंत चौटाला (31) जेल में बंद अपने पिता की अनुपस्थिति में पार्टी का नेतृत्व कर रहे हैं।

अपने चुनाव अभियान के दौरान उन्होंने पारिवारिक संबंधों को गंभीर बनाने के लिए अपने चाचा अभय सिंह चौटाला पर निशाना साधते हुए लोगों से भावनात्मक समर्थन हासिल करने की कोशिश भी की।

उन्होंने चुनाव जीतने पर महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देने के साथ कई बड़े वादे किए हैं।