दैनिक भास्कर हिंदी: कोलकाता: पीएम मोदी की मौजूदगी में मंच पर जय श्रीराम के नारे लगने से नाराज हुई ममता,  भाषण देने से किया इनकार

January 23rd, 2021

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के मौके पर कोलकाता में आयोजित ‘पराक्रम दिवस’ कार्यक्रम में सियासी बवाल हो गया। यहां विक्टोरिया मेमोरियल में मोदी की मौजूदगी में मंच पर ममता बनर्जी नाराज हो गईं। वे भाषण दिए बगैर ही वापस लौट आईं।

दरअसल जब ममता भाषण देने पहुंचीं, तो कुछ लोग जय श्रीराम के नारे लगाने लगे। इसके बाद ममता ने माइक पर कहा, ‘यह किसी पॉलिटिकल पार्टी का प्रोग्राम नहीं है। किसी को निमंत्रण देकर बेइज्जत करना अच्छी बात नहीं है। मैं अब कुछ नहीं बोलूंगी। जय भारत, जय बांग्ला।’ इस दौरान पीएम मोदी मंच पर मौजूद थे। सीएम ममता ने कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पीएम मोदी का आभार जताया।

उन्होंने कहा कि ये सरकार का कार्यक्रम है, किसी पार्टी का नहीं है. किसी को बुलाकर अपमानित करना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि सरकार के कार्यक्रम में गरिमा होनी चाहिए। यह कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। किसी को आमंत्रित करने के बाद अपमान करना शोभा नहीं देना। विरोध के रूप में, मैं कुछ भी नहीं बोलूंगी।

'जय श्रीराम' नारे को लेकर होते रहे हैं विवाद
आपको बता दें कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को लेकर मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी की नाराजगी पहले भी कई मौकों पर सामने आ चुकी हैं। कई बार ममता बनर्जी केंद्र की नीतियों का खुला विरोध जता चुकी हैं। इससे पहले भी जय श्रीराम नारे को लेकर ममता बनर्जी समेत तृणमूल कांग्रेस के कई नेता अपना विरोध जता चुके हैं। टीएमसी यहां तक कह चुकी है कि पश्चिम बंगाल में जय श्रीराम की नारेबाजी नहीं चलेगी।

 

 

खबरें और भी हैं...