• Dainik Bhaskar Hindi
  • Politics
  • MNS gave a warning after Raj Thackeray was threatened – the whole of Maharashtra will burn if his hair is also plucked

महाराष्ट्र : राज ठाकरे को धमकी मिलने पर मनसे ने दी चेतावनी- उनका बाल भी बांका हुआ तो पूरा महाराष्ट्र जल उठेगा

May 11th, 2022

हाईलाइट

  • कोई भी हमेशा के लिए सत्ता में नहीं रहता है।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे को जान से मारने की धमकी मिलने का दावा करते हुए पार्टी के एक नेता ने बुधवार को चेतावनी दी कि अगर उनका एक बाल भी बांका हुआ तो पूरा महाराष्ट्र जल उठेगा।मनसे नेता बाला नंदगांवकर ने गृह मंत्री दिलीप वालसे-पाटिल से मुलाकात की और उन्हें राज ठाकरे और खुद को मिल रही कथित धमकियों से अवगत कराया। बताया जा रहा है कि यह धमकी कथित तौर पर मुस्लिम संगठनों की ओर से दी गई है।

बताया जा रहा है कि उर्दू में लिखा गया एक धमकी भर पत्र मनसे कार्यालय में भेजा गया है और दूसरा हिंदी में लिखा गया पत्र नंदगांवकर को मिला है। धमकी मिलने के बाद उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा, अगर राज ठाकरे के एक बाल को भी छुआ गया, तो पूरा महाराष्ट्र आग की लपटों में जल जाएगा।

उन्होंने दावा किया कि उनकी बात सुनने के बाद वाल्से-पाटिल ने पुलिस आयुक्त संजय पांडे से बात की और जांच का आश्वासन दिया।नंदगांवकर ने कहा कि जिसने भी इस पत्र को लिखा है, उसके बारे में अभी कुछ नहीं पता है, लेकिन उन्होंने चेताते हुए कहा कि मनसे प्रमुख को छुए जाने पर इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

उन्होंने कहा कि मनसे राज ठाकरे और उनके परिवार के लिए सुरक्षा की मांग कर रही है और केंद्र और महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी सरकार दोनों को इस पर ध्यान देना चाहिए।मनसे ने कानून के उल्लंघन का दावा करते हुए मस्जिदों से सभी लाउडस्पीकरों को हटाने के लिए एक राज्यव्यापी आंदोलन शुरू किया है। पार्टी और उसके प्रमुख राज ठाकरे ने हाल ही में कहा था कि जो भी मस्जिद इसका पालन नहीं करेगी, उसके कार्यकर्ता उक्त मस्जिद के सामने जाकर उनसे भी तेज आवाज में हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे।

हालांकि मस्जिदों को इस प्रकार का अल्टीमेटम दिए जाने पर एमवीए सरकार हरकत में आ गई है और मनसे का आरोप है कि उसने उसके कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।

राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं को निशाना बनाए जाने का विरोध करते हुए मंगलवार को एमवीए की जमकर आलोचना की थी। उन्होंने अपने चचेरे भाई और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भी एक पत्र लिखकर चेतावनी दी कि उनके साथ ऐसा व्यवहार न किया जाए, क्योंकि सरकारें आती हैं और जाती हैं और कोई भी हमेशा के लिए सत्ता में नहीं रहता है।

राज ठाकरे ने हाल ही में अयोध्या जाने की योजना की भी घोषणा की है, जहां वह भाजपा सांसद और महंतों के कड़े विरोध का सामना कर रहे हैं। कुछ भाजपा नेता और मंहत उनका विरोध इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि ठाकरे और उनकी पार्टी ने वर्ष 2008 सहित कई मौकों पर महाराष्ट्र में उत्तर भारतीयों के साथ गलत व्यवहार किया था, जिसके लिए वह राज ठाकरे से माफी की मांग कर रहे हैं।

 

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.