दैनिक भास्कर हिंदी: लंदन में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी

June 8th, 2020

हाईलाइट

  • लंदन में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी

लंदन, 8 जून (आईएएनएस)। अमेरिका के मिनियापोलिस में 25 मई को निहत्थे अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद पुलिस की बर्बरता की निंदा करने के लिए रविवार को दूसरे दिन की रैली में लंदन की सड़कों पर हजारों प्रदर्शनकारी उतरे। हत्या के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए शहर में करीब 10,000 लोग एकत्रित हुए।

पार्लियामेंट स्क्वायर पर एक दुखद घटना देखने को मिली, जब प्रदर्शनकारियों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा को खंडित कर दिया। एक ऐसी ही घटना ब्रिस्टल शहर में भी हुई। एक भीड़ ने ब्लैक लाइव्स मैटर मार्च के दौरान गुलाम व्यापारी (स्लेव ट्रेडर) एडवर्ड कॉलस्टन की 125 साल पुरानी प्रतिमा को भी गिरा दिया।

विरोध प्रदर्शनों में विंस्टन चर्चिल की प्रतिमा के नीचे नस्लवादी शब्द लिख दिया। गृह सचिव प्रीति पटेल ने भीड़ द्वारा की गई इन हरकतों की कड़ी निंदा की।

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने रविवार शाम को ट्वीट किया, लोगों को शांतिपूर्वक और सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पालन करते हुए प्रदर्शन करने का अधिकार है, लेकिन उनके पास पुलिस पर हमला करने का अधिकार नहीं है। ये प्रदर्शन उस लक्ष्य से कहीं दूर हैं, जो इनका मकसद होना चाहिए था। इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाएगी।

लंदन के मेयर सादिक खान ने कहा है कि लंदन में अधिकांश प्रदर्शनकारी शांतिपूर्ण थे, मगर कुछ लोग हिंसक हो गए और उन्होंने कांच की बोतलें फेंकी जिसने अन्य प्रदर्शनकारियों को भी खतरे में डाल दिया और इससे पुलिस अधिकारी भी घायल हो गए। उन्होंने कहा कि इस तरह की हरकत स्वीकार्य नहीं है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

स्कॉटलैंड यार्ड ने कहा कि एक दिन पहले पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़पों के दौरान 29 लोग गिरफ्तार किए गए हैं और 14 अधिकारी घायल हुए हैं।

खबरें और भी हैं...