दैनिक भास्कर हिंदी: Resignation: चुनाव से पहले ममता को एक और झटका, टीएमसी विधायक जितेन्द्र तिवारी ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिया

December 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। बागी तेवर अपनाने वाले कई पार्टी नेताओं में शामिल तृणमूल कांग्रेस के विधायक जितेंद्र तिवारी ने आसनसोल नगर निगम के प्रशासनिक बोर्ड के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। जितेंद्र तिवारी पश्चिम बंगाल विधानसभा में पांडवेश्वर का प्रतिनिधित्व करते हैं और उन्होंने दावा किया है कि ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार ने इस क्षेत्र को विकास निधि का उचित हिस्सा नहीं दिया है। तिवारी ने टीएमसी के पश्चिम वर्धमान डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट के पद से भी इस्तीफा दे दिया है। 

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए, जितेंद्र तिवारी ने कहा, 'हम स्मार्ट सिटी से वंचित हो गए हैं। हम ठोस अपशिष्ट प्रबंधन प्रणाली से भी वंचित रहे हैं। आसनसोल को कई विकास कार्यों से वंचित किया गया है।' तिवारी ने कहा, 'वर्तमान स्थिति को देखते हुए, काम करना बहुत कठिन है और मैं आसनसोल नगर निगम के प्रशासनिक बोर्ड के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं। उन्होंने कहा, मैं चुनाव के बाद फिर से वापस आऊंगा और सभी लंबित कार्यों को पूरा करूंगा।

जितेंद्र तिवारी उन टीएमसी नेताओं में से हैं, जो हाल ही में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ सामने आए हैं। पार्टी के बड़े नेता सुवेंदु अधिकारी ने टीएमसी छोड़ दी है, वहीं तिवारी, टीएमसी सांसद सुनील मंडल और बंगाल के वन मंत्री राजीब बनर्जी ने भी पार्टी के खिलाफ अपनी बात रखी है। इस बीच, टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भाजपा पर अपनी पार्टी के नेताओं को तोड़ने का आरोप लगाया है।