शिवराज : कलेक्टर-एसपी की कार्यशैली का सरकार की छवि पर असर

November 29th, 2021

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश में पिछले दिनों विधायकों द्वारा नौकरशाही की कार्यशैली पर उठाए गए सवाल का असर सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कमिश्नर-कलेक्टर,आईजी-एसपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में नजर आया। मुख्यमंत्री ने अफसरों से कहा कि उनकी कार्यशैली से सरकार की छवि बनती और बिगड़ती है। मुख्यमंत्री चौहान ने कमिश्नर, कलेक्टर, पुलिस महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षकों की वीडियो कांफ्रेंस में कहा कि कलेक्टर, एसपी अपने-अपने स्तर पर सरकार के प्रतिनिधि हैं। जिलों में उन्हीं के काम पर जनता को सुशासन देना निर्भर है। उन्हीं के कार्य से सरकार की विभिन्न योजनाएं जनता तक पहुंचती हैं।

जिला स्तर पर कलेक्टर-एसपी के अच्छे कार्य का बेहतर असर होता है, परंतु जहां ढिलाई रहती है उससे सरकार की छवि प्रभावित होती है। मंत्रालय से इस कांफ्रेंस में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन विनोद कुमार, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी उपस्थित थे। ज्ञात हो कि बीते दिनों भाजपा के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवकुमार के साथ हुई बैठक में कई विधायकों और मंत्रियों ने नौकरशाही के रवैए पर सवाल उठाए थे। साथ ही यहां तक कहा था कि कई वरिष्ठ अधिकारी उनकी बात को महत्व नहीं देते और जनहित के काम करने में रुचि नहीं लेते। कई जिलों के अफसरों की सीधे तौर पर शिकायत भी विधायकों ने की थी।

(आईएएनएस)