दैनिक भास्कर हिंदी: पश्चिम बंगाल: शाह पर ममता का पलटवार, कहा- भाजपा चीटिंगबाज पार्टी, राजनीति के लिए वो कुछ भी कर सकती है

December 21st, 2020

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच लड़ाई हर दिन बढ़ती जा रही है। राज्य में गृह मंत्री अमित शाह का 2 दिन का दौरा खत्म होते ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने अपनी पार्टी की उपलब्धियां गिनाईं और भाजपा पर हमला बोला। शाह के सवालों पर उन्होंने कहा कि गृह मंत्री को झूठ बोलना शोभा नहीं देता है और मैं उनके सवालों का जवाब कल दूंगी। वे वोलीं, "भाजपा चीटिंगबाज पार्टी है, राजनीति के लिए वो कुछ भी कर सकती है।' 

ममता ने गिनाईं अपनी सरकार उपलब्धियां 
उन्होंने बताया कि करीब 20 हजार कैंप बनाए गए हैं। यह भारत में एक नया मॉडल है। सरकार की 12 स्कीम इसके तहत चल रही हैं जिसमें स्वस्थ साथी, कन्याश्री, रुपोश्री, 100 डिनेरकाज इत्यादि। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ममता बनर्जी ने गृह मंत्री अमित शाह पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि गलत तथ्य बोलकर अमित शाह बंगाल के लोगों का अपमान न करें। प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपनी पार्टी टीएमसी की उपलब्धियां गिनाते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि कुछ ब्लॉक्स में सभी आईएएस, जिलाधिकारी, WBCS और अन्य सरकारी अफसर रात के 9 बजे तक काम कर रहे हैं। 20 दिसंबर 2020 तक करीब 1 करोड़ 12 लाख लोग 11,056 कैंपों में शामिल थे। सारे वॉलंटियर्स, डीएम, एसडीओ और पुलिस 1 करोड़ लोगों की मदद कर रहे हैं।

ममता बोलीं, किसी को देश छोड़ने की जरूरत नहीं
ममता बनर्जी ने कहा कि हम सीएए, एनआरसी के खिलाफ हैं। किसी को भी देश छोड़कर जाने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार लोगों में भ्रम फैला रही है। उन्होंने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह एक का होकर बात कर रहे हैं। उन्हें झूठ बोलना शोभा नहीं देता है।

शाह की रैली के जवाब में बीरभूम में 29 को रैली करेंगी ममता
ममता ने कहा कि मैं 28 दिसंबर को एक प्रशासनिक बैठक में शामिल होने बीरभूम जाऊंगी और 29 तारीख को वहां एक रैली करूंगी। दरअसल, बीरभूम के बोलपुर में रविवार को शाह ने एक रोड शो किया था। इसके बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि बंगाल शिक्षा, स्वास्थ्य और विकास में पिछड़ता जा रहा है और भ्रष्टाचार, परिवारवाद और राजनीतिक हिंसा में नंबर वन हो गया है। इस पर ममता ने कहा कि भाजपा वाले कुछ भी बोल सकते हैं। उन्होंने नागरिकता संशोधन विधेयक पर भी बात की। कहा कि हम CAA का तभी से विरोध कर रहे हैं, जब से ये कानून पास किया गया। भाजपा लोगों का भविष्य तय नहीं कर सकती है, लोगों को अपना भविष्य तय करने दें। हम CAA, NPR और NRC के विरोध में हैं। किसी भी शख्स को देश छोड़ने की जरूरत नहीं है।

ममता ने कृषि मंत्री को लिखा पत्र 
ममता बनर्जी ने सोमवार को केंद्रीय कृशि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखा। पत्र में ममता ने तोमर से पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत धनराशि हस्तांतरित करने का अनुरोध किया है। इस पत्र में कहा गया कि केंद्र सरकार को 9 सितंबर को किसान सम्मान निधि की राशि के लिए पत्र लिखा गया था, लेकिन सरकार की ओर से कोई जवाब नहीं मिला। हम पुन: किसानों की राशि के लिए पत्र लिख रहे हैं। बता दें ​कि बंगाल दौरे पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था कि पश्चिम बंगाल से किसानों की कोई लिस्ट केंद्र को नहीं मिली, जिसके जवाब में ममता सरकार ने सोमवार को पत्र जारी किया।

Image

शुभेंद्र का इस्तीफा मंजूर
पश्चिम बंगाल के विधानसभा अध्यक्ष ने सोमवार को शुभेंदु अधिकारी का इस्तीफा मंजूर कर लिया। स्पीकर बिमन बनर्जी ने कहा कि शुभेंदु से आज मेरी मुलाकात हुई। उन्होंने मुझे बताया कि उनका यह फैसला किसी के भी दबाव में आए बिना किया गया है। मैं उनके इस्तीफे से पूरी तरह संतुष्ट हूं और तत्काल प्रभाव से उनका इस्तीफा मंजूर कर रहा हूं।

 


 

खबरें और भी हैं...