दैनिक भास्कर हिंदी: महिला हॉकी : चीन को हराकर भारत ने जीता एशिया कप, पीएम और राष्ट्रपति ने दी बधाई

November 6th, 2017

डिजिटल डेस्क, जापान। भारतीय महिला हॉकी टीम एशिया कप के फाइनल में चीन 5-4 से पटखनी देकर खिताब पर कब्जा जमा लिया। मैच में दोनों टीमें तय समय में 1-1 से बराबरी पर थी, इसके बाद महिला हॉकी टीम ने पेनल्टी शूटआउट में चीन 5-4 से हराया। इस खिताब के साथ ही भारत ने 2018 में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई भी कर लिया है। भारतीय टीम चौथी बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी।

 

राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘हमारी महिला हॉकी टीम को एशिया कप जीतने पर बधाई। अब निगाहें 2018 विश्व कप में जीत पर हैं।’

 

भारतीय टीम के लिए ननजोत कौर ने 25वें मिनट में गोल कर 1-0 से लीड ले ली थी। भारतीय टीम अपनी जीत की ओर बढ़ रही थी, लेकिन चौथे क्वार्टर में 47वें मिनट में टिनाटियान लु ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए मुकाबले में बराबरी हासिल कर ली। इसके बाद दोनों टीमें गोल करने में नाकाम रहीं और मैच बराबरी के साथ पेनल्टी शूटआउट तक पहुंच गया। यहां भारत ने शानदार तरीके से जीत हासिल की।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘भारत उनके शानदार प्रदर्शन से खुश है।’

 

भारतीय टीम के सफर की बात करें तो 1999 में उसे अपनी मेजबानी में फाइनल में दक्षिण कोरिया के हाथों 2-3 की हार मिली थी। हालांकि, वह 2004 में इस खिताब को जीतने में कामयाब रही। साल 2009 में बैंकॉक में आयोजित हुए टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था, लेकिन चीन ने 5-3 से मात देकर उसके हाथों से खिताब छीन लिया था।

 

उप राष्ट्रपति नायडू ने लिखा, ‘भारतीय महिला हॉकी टीम को चीन को हराकर 13 साल बाद एशिया कप जीतने पर बधाई।’

 

चीन से हिसाब बराबर

एशिया कप पर कब्जा जमाकर भारतीय महिला हॉकी टीम ने चीन से अपना पुराना हिसाब बराबर कर दिया है। 8 साल पहले इसी टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में भारत को चीन के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। बता दें 2009 में बैंकॉक में हुए फाइनल मुकाबले में भारत को चीन के हाथों 3-5 से हार मिली थी।

 

ये भी पढ़े-एशिया कप: दिवाली पर हॉकी टीम का देश को 'तोहफा', मलेशिया को दी मात

 

अब हमारी बारी : रानी

मैच से पहले भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी ने कहा था कि पुरुष टीम के एशिया कप जीतने से हमारी टीम को काफी प्रेरणा मिली है और अब खिताब जीतने की बारी उनकी है। उम्मीद है कि भारतीय टीम फाइनल में जीत हासिल कर भारत के लिए पुरूष और महिला एशिया कप में खिताब का डबल पूरा करेगी। रानी ने कहा कि ड्रेसिंग रूम का माहौल बहुत अच्छा है। मुकाबले को लेकर सभी खिलाड़ी उत्साहित है और फाइनल के लिए पूरी तरह से तैयार है। हम एशिया कप का खिताब जीतकर विश्व कप में जगह बनाना चाहते हैं।