comScore

बल्लेबाजों को ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से खेलना होगा : रहाणे

February 28th, 2020 10:11 IST
बल्लेबाजों को ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से खेलना होगा : रहाणे

हाईलाइट

  • बल्लेबाजों को ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से खेलना होगा : रहाणे

क्राइस्टचर्च, 27 फरवरी (आईएएनएस)। भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि टीम के बल्लेबाजों को न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट मैच में ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता के साथ खेलना होगा। दोनों टीमों के बीच दूसरा मैच हेग्ले ओवल मैदान पर शुरू हो रहा है। वेलिंग्टन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारतीय बल्लेबाज संघर्ष करते दिखे थे।

रहाणे ने यहां गुरुवार को संवाददाताओं से कहा, मैं नहीं कह रहा कि हमें ज्यादा आक्रामकता से खेलना होगा लेकिन ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से हमें मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, मेरे लिए, एक बल्लेबाज के तौर पर मुझे लगता है कि आपको गेंदबाज के सामने अपनी इच्छाशक्ति का प्रदर्शन करना होता है। अगर आप एक स्थान पर खड़े रहे तो गेंदबाजों को ज्यादा कुछ बदलने की जरूरत नहीं है। इस तरह की बातों पर हम अभ्यास सत्र में ध्यान दे रहे हैं। साथ ही किस तरह से क्रीज और एंगल का उपयोग करना है उस पर भी ध्यान दिया जा रहा है। लेकिन आप कितना भी अभ्यास कर लें, आपको पिच पर बल्लेबाजी करने के लिए अपने पर विश्वास होना चाहिए।

पहले टेस्ट मैच में रहाणे उन बल्लेबाजों में से थे जिन्होंने विकेट पर टिकने की हिम्मत दिखाई थी। वह हालांकि बड़ा स्कोर नहीं कर पाए थे, लेकिन दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने विकेट पर अच्छा समय बिताया था। उन्होंने अपनी टीम के बल्लेबाजों से एक अलग एंगल को ध्यान में रखते हुए बल्लेबाजी अभ्यास करने की बात भी कही है।

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि उनके गेंदबाजों ने वेलिंग्टन में एक अच्छे कोण का उपयोग किया था। वह क्रिज से कोने और मध्य में रहकर गेंदबाजी कर रहे थे। शॉर्ट गेंद फेंकते हुए वह एंगल बदल रहे थे। उनकी रणनीति साफ थी। एक बल्लेबाज के तौर पर अगर आप एक निश्चित शॉट के बारे में सोच रहे तो आपको अपने आप को उस शॉट के लिए तैयार करना होगा और उस पर भरोसा करना होगा और शक नहीं करना होगा।

उन्होंने कहा, इसलिए मैंने कहा, हमने एक टीम के तौर पर क्या गलतियां की, उनसे हमें सीखना होगा। मुझे लगता है कि हमें उन एंगल के सामने बल्लेबाजी करने का अभ्यास करना होगा। हमने अभी अभ्यास किया है और कल भी हमारा अभ्यास सत्र है।

कमेंट करें
flIqP
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।