दैनिक भास्कर हिंदी: बच्ची को देख हरभजन हुए इमोशनल,मदद करने पहुंचे हॉस्पिटल

October 28th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इंडियन क्रिकेट टीम के टर्बिनेटर कहे जाने वाले हरभजन सिंह ग्राउंड पर अक्सर काफी एग्रेसिव नजर आते हैं, लेकिन असल में वो काफी इमोशनल और हेल्पफुल हैं। इस बात का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि भज्जी पाजी ने ट्विटर पर एक 4 साल की बच्ची की फोटो को देखा और फिर खुद उनसे मिलने हॉस्पिटल पहुंच गए। अब आप सोच रहे होंगे कि इस बच्ची में ऐसा क्या था, कि हरभजन को मिलने जाना पड़ा। दरअसल, ये बच्ची कोई नॉर्मल बच्ची नहीं है। इस बच्ची को के ब्रेन में स्वेलिंग है और जब भज्जी ने इस बच्ची की फोटो को सोशल मीडिया पर देखा, तो वो खुद इसकी मदद करने हॉस्पिटल जा पहुंचे। इस 4 साल की बच्ची का नाम 'काव्या' है और ये ब्रेन में स्वेलिंग की बीमारी से पीड़ित है। 

हरभजन ने काव्या की मदद के लिए किया गया एक ट्वीट देखा, तो उन्होंने उसकी मदद करनी चाही। इसके लिए हरभजन ने इस ट्वीट पर रिप्लाई किया कि वो काव्या की मदद करना चाहते हैं। काव्या के लिए किए गए इस ट्वीट में लिखा था '4 साल की काव्या दिल्ली के एक हॉस्पिटल में एडमिट हैं। ये 'इंसेफेलाइटिस' बीमारी से ग्रसित हैं। इसके ट्रीटमेंट के लिए 4,600 डॉलर (करीब 3 लाख रुपए) का फंड इकठ्ठा कर रहे हैं।' इस ट्वीट को देखने के बाद भज्जी 4 साल की काव्या से मिलने हॉस्पिटल भी पहुंचे और उसकी मदद भी की। काव्या की मदद के बाद हरभजन ने ट्वीट किया, 'काव्या हमारी ही बेटी हैं। भगवान उसकी रक्षा करेंगे। हम बस अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। सतनाम वाहेगुरू।'

हरभजन भले ही इस समय टीम इंडिया में नहीं है, लेकिन वो सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। हाल ही में रिटायर्ड IPS ऑफिसर संजीव भट्ट ने टीम इंडिया में कोई मुस्लिम खिलाड़ी के नहीं होने पर सवाल उठाया था, जिसपर हरभजन सिंह ने उन्हें करारा जवाब दिया था। संजीव भट्ट ने ट्वीट कर कहा, 'क्या इस समय भारतीय क्रिकेट टीम में कोई मुस्लिम खिलाड़ी हैं?' इतना ही नहीं उन्होंने फेसबुक पर भी 3-4 सवाल किए हैं। इस पर जवाब देते हुए हरभजन ने कहा, 'हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई आपस में है भाई। क्रिकेट टीम में खेलने वाला हर खिलाड़ी हिंदुस्तानी है उसकी जात या रंग की बात नहीं होनी चाहिए (जय भारत)।'