comScore

टेस्ट की दोनों पारियों में शतक लगाने वाले छठे भारतीय बने रोहित

टेस्ट की दोनों पारियों में शतक लगाने वाले छठे भारतीय बने रोहित

हाईलाइट

  • रोहित शर्मा एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक बनाने वाले भारत के छठे बल्लेबाज बने
  • रोहित ने पहली बार बतौर सलामी बल्लेबाज खेलते हुए यह मुकाम हासिल किया
  • रोहित ने अफ्रीका के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन शनिवार को यह उपलब्धि हासिल की

नई दिल्ली, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक बनाने वाले भारत के छठे बल्लेबाज बन गए हैं। खास बात यह है कि रोहित ने पहली बार बतौर सलामी बल्लेबाज खेलते हुए यह मुकाम हासिल किया है और इसी के साथ वह बतौर सलामी बल्लेबाज पदार्पण करते हुए एक टेस्ट की दोनों पारियों में शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं।

32 वर्षीय रोहित ने विशाखापट्टनम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन शनिवार को यह उपलब्धि हासिल की। रोहित ने पहली पारी में 176 और दूसरी पारी में 127 रन की शतकीय पारी खेली। भारत के लिए अब तक 27 टेस्ट मैच खेल चुके रोहित का यह पांचवां शतक है। क्रिकेट के इस लंबे प्रारूप में रोहित का 177 रन सर्वोच्च स्कोर है।

रोहित से पहले अब तक विजय हजारे, सुनील गावस्कर, राहुल द्रविड़, विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक जड़ चुके हैं। हजारे ने एडिलेड में जनवरी 1948 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 116 और 145 रन की पारी खेली थी। वहीं, गावस्कर ने सर्वाधिक तीन बार एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक जमाया है।

गावस्कर ने अप्रैल 1971 में पोर्ट ऑफ स्पेन में वेस्टइंडीज के खिलाफ 124 और 220, नवंबर 1978 में कराची में पाकिस्तान के खिलाफ 111 और 137 तथा दिसंबर 1978 में कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ 107 और 182 रन की नाबाद शतकीय पारी खेली थी।

द्रविड़ ने जनवरी 1999 में हेमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ 190 और नाबाद 103 तथा मार्च 2005 में कोलकाता में पाकिस्तान के खिलाफ 110 और 135 रन की शतकीय पारी खेली थी। उनके अलावा कोहली ने दिसंबर 2014 में एडिलेड में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 115 और 141 जबकि रहाणे दिसंबर 2015 में दिल्ली में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 127 और नाबाद 100 रन की शतकीय पारी खेल चुके हैं।

कमेंट करें
N46vm
NEXT STORY

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारत के घरेलु वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम ने आज घोषणा की है कि इसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी पेटीएम मनी ने देश में सभी के लिए स्टॉकब्रोकिंग की सुविधा शुरू कर दी है। कंपनी का लक्ष्य इस वित्त वर्ष में 10 लाख से अधिक निवेशकों को जोड़ना है, जिसमें अधिकतर छोटे शहरों और कस्बों से आने वाले फर्स्ट टाइम यूजर्स होंगे। इस प्रयास का उद्देश्य उत्पाद के आसान उपयोग, कम मूल्य निर्धारण (डिलीवरी ऑर्डर पर जीरो ब्रोकरेज, इंट्राडे के लिए 10 रुपये) और डिजिटल केवाईसी के साथ पेपरलेस खाता खोलने के साथ निवेश को प्रोत्साहित करना तथा अधिक-से-अधिक लोगों तक पहुंचना है। कंपनी भारत में सबसे व्यापक ऑनलाइन वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनने के लिए प्रयासरत है, जो वित्तीय समावेशन के लक्ष्य के तहत आम लोगों तक आसानी से पहुंच सके।

पेटीएम मनी को अपने शुरुआती प्रयास में ही लोगों से भारी प्रतिक्रिया मिली और उसने 2.2 लाख से अधिक निवेशकों को अपने साथ जोड़ लिया। इनमें से, 65% उपयोगकर्ता 18 से 30 वर्ष के आयु वर्ग में हैं, जो दर्शाता है कि नई पीढ़ी अपनी वेल्थ पोर्टफोलियो का निर्माण कर रही है। टियर-1 शहरों जैसे मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, जयपुर और अहमदाबाद में इस प्लेटफार्म को बड़े स्तर पर अपनाया गया है। ठाणे, गुंटूर, बर्धमान, कृष्णा, और आगरा जैसे छोटे शहरों में भी लोगों का भारी झुकाव देखने को मिला है। यह सेवा सुपर-फास्ट लोडिंग स्टॉक चार्ट्स, ट्रैक मार्केट मूवर्स एंड कंपनी फंडामेंटल्स सुविधाओं के साथ अब आईओएस, एंड्रॉइड और वेब पर उपलब्ध है। पेटीएम मनी ऐप शेयरों पर निवेश, व्यापार और सर्च के लिए प्राइस अलर्ट और एसआईपी सेट करने के लिए आसान इंटरफ़ेस प्रदान करता है।

इस अवसर पर पेटीएम मनी के सीईओ, वरुण श्रीधर ने कहा, "हमारा उद्देश्य वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं को आबादी के बड़े हिस्से तक पहुंचाना है, जो आत्मानिर्भर भारत के लक्ष्य में योगदान करेगी। हमारा मानना है कि यह मिलेनियल और नए निवेशकों को उनके वेल्थ पोर्टफोलियो के निर्माण में सक्षम बनाने का समय है। प्रौद्योगिकी पर आधारित हमारे समाधान शेयर में निवेश को सरल और आसान बनाता है। हम वर्तमान उत्पादों को चुनौती देते रहेंगे और भारत के सर्वश्रेष्ठ उत्पाद का निर्माण करते रहेंगे। हम पेटीएम मनी को सभी भारतीय के लिए एक व्यापक वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। "

इतने कम समय में पेटीएम मनी पर स्टॉक ट्रेडिंग को व्यापक रूप से अपनाया जाना काफी महत्व रखता है। यह हर भारतीय के लिए डिजिटल निवेश को आसान बनाने के कंपनी के प्रयासों की सराहना को भी दर्शाता है। शेयरों में आसान निवेश के साथ, प्लेटफॉर्म उपयोगकर्ता को बाजार के बारे में शोध करने, मार्केट मूवर्स का पता लगाने, अनुकूल वॉचलिस्ट तैयार करने और 50 से अधिक शेयरों के लिए प्राइस अलर्ट सेट करने के अवसर प्रदान करता है। इसके अलावा, उपयोगकर्ता स्टॉक के लिए साप्ताहिक / मासिक एसआईपी सेट कर सकते हैं, और स्टॉक में निवेश को आॅटोमेट कर सकते हैं। बिल्ट-इन ब्रोकरेज कैलकुलेटर के साथ, निवेशक लेनदेन शुल्क का पता लगा सकते हैं और शेयरों को लाभ पर बेचने के लिए ब्रेक-इवेन प्राइस जान सकते हैं। इसके अलावा, स्टॉक ट्रेडिंग के अनुभव को और बेहतर बनाने के लिए एडवांस्ड चार्ट और अन्य विकल्प जैसे कवर चार्ट तथा ब्रैकेट ऑर्डर भी जोड़े गए हैं। इन सुविधाओं के अलावा बैंक-स्तरीय सुरक्षा के साथ निवेशकों के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखते हुए अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी।


पेटीएम मनी के बारे में
पेटीएम मनी वन97 कम्युनिकेशंस की पूर्ण स्वामित्व वाली एक सहायक कंपनी है। वन97 कम्युनिकेशंस भारत की घरेलू वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम का स्वामित्व भी रखता है। यह देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन इंवेस्टमेंट प्लेटफार्म है, और अब इसने उपयोगकर्ताओं के लिए डायरेक्ट म्यूचुअल फंड्स और एनपीएस के अपने वर्तमान आॅफर में स्टॉक्स को भी जोड़ दिया है। पेटीएम मनी का लक्ष्य एक पूर्ण-स्टैक इंवेस्टमेंट और वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनना और लाखों भारतीयों तक धन सृजन के अवसरों को पहुंचाना है। बेंगलुरु स्थित मुख्यालय से संचालित इस कंपनी की टीम में 300 से अधिक सदस्य हैं।