comScore

विशाखापट्टनम टेस्ट : रोहित, शमी और अश्विन ने दिलाई भारत को 1-0 की बढ़त

October 06th, 2019 15:12 IST
विशाखापट्टनम टेस्ट : रोहित, शमी और अश्विन ने दिलाई भारत को 1-0 की बढ़त

विशाखापट्टनम, 6 अक्टूबर (आईएएनएस)। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के रिकॉर्ड शतक के बाद मोहम्मद शमी, रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की घातक गेंदबाजी की मदद से भारत ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच के पांचवें और अंतिम दिन रविवार को दक्षिण अफ्रीका को 203 रनों से हरा दिया।

इसके साथ ही भारत ने तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में भारत की तीन मैचों में यह लगातार तीसरी जीत है और अब अंकतालिका में उसके 160 अंक हो गए हैं।

मैच की पहली पारी में शतक और दूसरी पारी में शतक लगाने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को उनके शानदार बल्लेबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।

भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 502 रनों पर घोषित की थी। दक्षिण अफ्रीका ने अपनी पहली पारी में 431 रन बनाए।

भारतीय टीम दूसरी पारी में 71 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी और उसने दूसरी पारी में चार विकेट पर 323 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 395 रनों का लक्ष्य रखा। दक्षिण अफ्रीकी टीम इसके जवाब में 63.5 ओवर में 191 रनों पर सिमट गई।

भारत से मिले 395 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही दक्षिण अफ्रीकी टीम ने अपने कल के स्कोर एक विकेट पर 11 रन से आगे खेलना शुरू किया। एडिन मार्कराम तीन और थेयुनिस डे ब्रयून ने पांच रन से आगे खेलना शुरू किया।

मेहमान टीम की शुरूआत ठीक नहीं रही और टीम ने पहले सत्र के खेल में 33 ओवरों का सामना किया, जिसमें उसने 106 रन बनाए और अपने सात विकेट गंवाए।

दिन का खेल शुरू होते ही टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। मेहमान टीम ने 60 रन तक अपने पांच विकेट गंवा दिए थे। इन पांच विकेटों में डे ब्रयून (10), उपकप्तान टेम्बा बावुमा (0), कप्तान फाफ डु प्लेसिस (13), क्विंटन डी कॉक (0) के विकेट शामिल हैं।

ऐसा लग रहा था कि टीम इसके बाद इन झटकों से उबर जाएगी। लेकिन 70 रन के स्कोर पर ही उसने तीन लगातार तीन विकेट खो दिए, जिससे टीम अब हार के कगार पर पहुंच चुकी है। इन तीन विकेटों में मार्कराम (39), वार्नोन फिलेंडर (0) और केशव महाराज (0) के विकेट शामिल हैं।

70 रन के स्कोर पर अपना आठवां विकेट गंवाने के बाद ऐसा लग रहा था कि टीम 100 रन के अंदर निपट जाएगी। लेकिन डेन पिएड्ट (56) और सेनुरान मुतुसामी (49) ने नौवें विकेट के लिए 91 रन की साझेदारी कर टीम के कुछ उम्मीदें जगाई।

लेकिन शमी ने 161 के स्कोर पर पिएड्ट को बोल्ड कर इस साझेदारी का अंत कर दिया और फिर इसके बाद दक्षिण अफ्रीकी टीम 191 रन सिमट गई। पिएड्ट 107 गेंदों पर नौ चौकों और एक छक्का जबकि मुतुसामी ने 108 गेंदों पर पांच चौके लगाए।

भारत की ओर से शमी ने 35 रन पर पांच विकेट, जडेजा ने 87 रन पर चार विकेट और अश्विन ने 44 रन पर एक विकेट हासिल किया। पहली पारी में सात विकेट लेने वाले अश्विन ने इसके साथ ही सबसे तेजी से 350 टेस्ट विकेट लेने के श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के टेस्ट रिकार्ड की बराबरी कर ली है।

कमेंट करें
wKIVk