दैनिक भास्कर हिंदी: world boxing championship: मैरी कॉम युवा मुक्केबाजों से भिड़ने को तैयार

November 13th, 2018

हाईलाइट

  • मैरी कॉम छह बार विश्व चैंपियनशिप में भाग ले चूकी हैं
  • मैरी कॉम पांच बार की विश्व चैंपियन रही हैं
  • महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में इस बार नौ देश टूर्नामेंट में पदार्पण करेंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत की स्टार महिला मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम विश्व चैंपियनशिप में देश के लिए छठा गोल्ड मेडल जीतने की तैयारियों में जुटी हुई हैं। एक निजी चैनल से हुई बातचीत के दौरान मैरी कॉम ने कहा कि, वह युवा मुक्केबाजों की कड़ी चुनौती से लड़ने के लिए अपने एक्सपिरियंस और एनर्जी का इस्तेमाल करेंगी। 35 साल की मैरी कॉम बुधवार से नई दिल्ली में शुरू होने जा रही विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में सातवीं बार भाग लेंगी। 

इससे पहले मैरी कॉम छह बार विश्व चैंपियनशिप में भाग ले चुकी हैं। जिसमें मैरी कॉम पांच बार की विश्व चैंपियन रहीं। मैरी कॉम ने 2012 लंदन ओलिंपिक गेम्स में ब्रॉन्ज मेडल और 2014 एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। मैरी कॉम आगामी विश्व चैंपियनशिप में एक बार फिर चैंपियन बनने के इरादे से रिंग में उतरेंगी। 

मैरी कॉम ने टूर्नामेंट से पहले पत्रकारों से कहा, मैं जिस कैटेगरी में मुक्केबाजी करती हूं उसमें एक ऐसी मुक्केबाज हैं जो 2001 से अब भी खेल रही हैं। मैं उन्हें अच्छी तरह से जानती हूं और मुझे पता है के उनसे कैसे निपटना है। जहां तक बात नई प्रतिभाओं की करें। तो वे ज्यादा दमदार, स्मार्ट और फुर्तीले हैं। मैं उनसे निपटने के लिए अपने अनुभव का इस्तेमाल करूंगी। पुरानी मुक्केबाज लगभग एक जैसी हैं और मैं उन्हें अच्छी तरह से जानती हूं। मुझे इस टूर्नामेंट में तीन राउंड तक खेलने के लिए ऊर्जावान बने रहने होगा। यह केवल एक राउंड का मामला नहीं है। इसलिए हमें उस हिसाब से रणनीति बनानी होगी। 

महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में इस बार नौ देश टूर्नामेंट में पदार्पण करेंगे। इस 10वें संस्करण में मुक्केबाजी का मजबूत देश माना जाने वाला स्कॉटलैंड भी पदार्पण कर रहा है। इससे पहले 102 राष्ट्र बीते नौ संस्करणों में भाग ले चुके हैं। इस टूर्नामेंट की शुरुआत 2001 में हुई थी। 

2006 के बाद से यह दूसरी बार है जब नई दिल्ली इस टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा है। 2006 में हुए टूर्नामेंट में 33 देशों से 178 मुक्केबाजों ने भाग लिया था। स्कॉटलैंड ने कुछ ही वर्ष पूर्व अपनी महिला टीम बनाई है। उसने इससे पहले कभी विश्व चैंपियनशिप में अपनी टीम नहीं उतारी है। इस देश की तीन मुक्केबाजों में 19 साल की विक्टोरिया ग्लोवर हैं जो 57 किलोग्राम भारवर्ग में प्रतिस्पर्धा करेंगी। े