comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें- श्री शर्मा स्वास्थ्य तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में कलेक्टर ने दिये निर्देश!

स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें- श्री शर्मा स्वास्थ्य तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में कलेक्टर ने दिये निर्देश!

डिजिटल डेस्क | जबलपुर कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने आज गुरुवार को आयोजित एक बैठक में स्वास्थ्य तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को आपस में समन्वय स्थापित कर स्वास्थ्य कार्यक्रमों एवं विभागीय योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। श्री शर्मा ने बैठक में स्वास्थ्य तथा महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की बारी-बारी से समीक्षा की।

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई इस बैठक में जिला पंचायत की सीईओ रिजु बाफना भी मौजूद थीं। कलेक्टर ने एनीमिया से पीडि़त बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को चिन्हित करने और उनके समुचित उपचार के लिए संयुक्त रूप से अभियान चलाने के निर्देश दोनों विभागों के अधिकारियों को दिये। श्री शर्मा ने संस्थागत प्रसव को प्रोत्साहन देने की बात भी कही। तथा घरों में होने वाले प्रत्येक प्रसव की केस स्टडी की जाये तथा इसकी वजहों को जाना जाये ताकि कमियों को दूर किया जा सके। कलेक्टर ने बैठक में आंगनबाड़ी केन्द्रों के बच्चों को दिये जा रहे पोषण आहार के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने एएनसी रजिस्ट्रेशन पर चर्चा करते हुए प्रत्येक गर्भवती महिला का पंजीयन सुनिश्चित करने की तथा उनका नियमित रूप से चेकअप करने की हिदायत दी।

श्री शर्मा ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना एवं जननी सुरक्षा योजना के तहत दी जाने वाली सहायता राशि का भी समय पर भुगतान करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने पोषण पुनर्वास केन्द्रों में भर्ती बच्चों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कुपोषण के शिकार बच्चों का पोषण पुनर्वास केन्द्रों में उपचार के बाद घर जाने पर भी नियमित रूप से फालोअप लिया जाये। श्री शर्मा ने बैठक में आंगनबाड़ी केन्द्र भवनों के निर्माण की प्रगति का ब्यौरा भी लिया। उन्होंने कहा कि इस बात के प्रयास किये जाये कि किराये पर लगने वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों का खुद का भवन हो।

उन्होंने नये आंगनबाड़ी केन्द्रों के भवन शाला परिसरों में ही बनाये जाने को प्राथमिकता देने की बात कही। और इसके लिये महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को शिक्षा विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए शेष पात्रों के आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य में गति लाने पर बल दिया। उन्होंने पीसी एण्ड पीएनडीटी एक्ट के तहत सोनोग्राफी सेंटरों की जांच करने के निर्देश भी बैठक में दिये तथा भ्रूण लिंग परीक्षण की शिकायतों पर सख्त कार्यवाही करने की हिदायत स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दी। कलेक्टर ने मलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत उन क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिये जहां लगातार हर वर्ष मलेरिया के प्रकरण आ रहे हैं।

उन्होंने ऐसे क्षेत्र में दवाओं के छिड़काव एवं मच्छरदानी के वितरण के साथ-साथ मलेरिया से बचाव के उपायों एवं सावधानियों के प्रति जन जागरूकता पैदा करने की आवश्यकता भी बताई। श्री शर्मा ने बैठक में राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम, परिवार कल्याण कार्यक्रम, क्षय उन्मूलन कार्यक्रम, कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम एवं 15 फरवरी से 20 मार्च तक चलाये जा रहे दस्तक अभियान की समीक्षा भी की। कलेक्टर ने बैठक में अनुपस्थित रहने पर पीसी एण्ड पीएनडीटी एक्ट के, कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तथा राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम के प्रभारी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिये।

बैठक में कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाइन से प्राप्त शिकायतों के निराकरण की स्थिति का ब्यौरा भी लिया। उन्होंने कहा कि सीएम हेल्पलाइन से प्राप्त शिकायत का त्वरित और शिकायतकर्ता की संतुष्टि के साथ निराकरण किया जाये। श्री शर्मा ने जननी सुरक्षा योजना के तहत राशि का भुगतान न किये जाने की शिकायतों के निराकरण पर विशेष ध्यान देने की हिदायत बैठक में दी।

कमेंट करें
i6nLP
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।