comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

23 वर्षीय महिला की मौत पर 'डर्टी पॉलिटिक्स', महाराष्ट्र के वनमंत्री ने इस्तीफा दिया

23 वर्षीय महिला की मौत पर 'डर्टी पॉलिटिक्स', महाराष्ट्र के वनमंत्री ने इस्तीफा दिया

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के वन मंत्री और शिवसेना नेता संजय राठौड़ ने रविवार को राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। राठौड़ ने कहा कि उन्होंने पुणे में एक 23 वर्षीय महिला की मौत पर "डर्टी पॉलिटिक्स" के चलते अपना पद छोड़ा है। बता दें कि 8 फरवरी को एक इमारत से गिरने के बाद महिला की मृत्यु हो गई थी। विपक्षी भाजपा इसे राठौड़ से जोड़ रही थी। हालांकि यवतमाल के दिग्रास के विधायक ने सभी आरोपों से इनकार किया है। राठोड ने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे दिया है। मेरी मांग है कि पूजा मामले की निष्पक्ष रूप से जांच हो। मामले में सत्य सबके सामने आना चाहिए। राठोड ने कहा कि भाजपा इस मामले को लेकर राजनीति कर रही है। भाजपा का बजट अधिवेशन नहीं चलने देने की चेतावनी संविधान और लोकतंत्र के विरोध में है। राठोड ने कहा कि पिछले कई दिनों में बंजारा समाज की युवती पूजा की मौत मामले में भाजपा ने गंदी राजनीति का प्रयास किया। भाजपा ने मीडिया के माध्यम से मेरी और मेरे बंजारा समाज की बदनामी करने का प्रयास किया। मेरे राजनीतिक जीवन को बर्बाद करने की कोशिश की गई है। राठोड ने कहा कि मैंने केवल मंत्री पद से इस्तीफा दिया है। विधायक पद से इस्तीफा नहीं दिया।

राठोड ने नैतिकता के आधार पर दिया इस्तीफा- मुख्यमंत्री 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राठोड ने खुद इस्तीफा दिया है। उन्होंने कहा कि राठोड ने नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दिया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि मुझसे पूजा के पिता और माता ने मुलाकात की है। उन्होंने एक पत्र दिया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि सरकार के जांच पर मेरा पूरा भरोसा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में पूजा के अभिभावक की कोई शिकायत नहीं है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में राजनीति न की जाए। लेकिन भाजपा इस मामले में राजनीति कर रही है। इससे दुर्भाग्य कुछ नहीं हो सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले की निष्पक्ष रूप से जांच करने के आदेश दिए गए हैं। पुलिस को निश्चित समय में जांच पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं। इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा का जांच एजेंसी पर अविश्वास है। लेकिन भाजपा सरकार के समय यही जांच एजेंसी थी। राठोड के खिलाफ मामला दर्ज करने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मामले में एडीआर दाखिल कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूजा का नाम लेकर बदनामी करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज करने के संबंध में अध्ययन किया जाएगा। 

डेलकर की आत्महत्या पर विपक्ष क्यों नहीं बोल रहा

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले सप्ताह में दादर एवं नगर हवेली के निर्दलीय सांसद मोहन डेलकर ने मुंबई में आत्महत्या की है। इस बारे में भाजपा के नेता क्यों नहीं बोल रहे है? इस मामले में  भाजपा के उच्च पद बैठे लोगों के नाम सामने आ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दादर एवं नगर हवेली केंद्र शासित प्रदेश है। इसलिए मेरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से आग्रह है कि वे दादर एवं नगर हवेली के प्रशासन को मुंबई पुलिस जब वहां पर जाएगी तो  जांच में सहयोग करने का निर्देश दें। 

खबर में खास

  • पुणे की 22 वर्षीय टिक टॉक स्टार पूजा चव्हाण ने बिल्डिंग की तीसरी मंजिल से कूदकर जान दे दी थी।
  • पूजा की मौत के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में हंगामा मच गया।
  • पूजा का नाम महाराष्ट्र के वन मंत्री संजय राठौड़ के साथ जोड़ा गया।
  • वन मंत्री का नाम जुड़ने के बाद सूबे के सीएम उद्धव ठाकरे पर राठौ़ड़ के इस्तीफे को लेकर दबाव बनाया गया
  • विवाद बढ़ता देख सीएम उद्धव ठाकरे ने मंत्री संजय राठौड़ को तलब किया था।
  • राठौड़ ने दावा किया कि महिला की "दुर्भाग्यपूर्ण" मौत के बाद "गंदी राजनीति" खेली जा रही है।
     

क्या कहा संजय राठौड़ ने?

  • महाराष्ट्र के वन मंत्री संजय राठौड़ ने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपने मंत्रिपद से इस्तीफा दिया है। 
  • मैंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि मामले की निष्पक्ष जांच हो।
  • पूजा चव्हाण हमारे ही बंजारा समाज की युवती थी।
  • पूजा के खुदकुशी मामले में मीडिया और सोशल मीडिया पर मेरी बदनामी हो रही है क्योंकि मैं मंत्रि पद पर हूं।
  • इस वजह से मैंने मंत्रिपद से इस्तीफा दिया है।
  • बीजेपी इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है। मै चाहता हूं निष्पक्ष जांच हो। 



 

कमेंट करें
orI4Q