दैनिक भास्कर हिंदी: अजब-गजब: यह है दुनिया का सबसे जहरीला पौधा, जिसे छूने मात्र से जा सकती है जान

September 3rd, 2020

डिजिटल डेस्क। दुनिया में पेड़-पौधों की कई तरह की प्रजातियां पाई जाती हैं। ये बात सभी जानते हैं कि, हमारे पर्यावरण के लिए पेड़-पौधे कितने महत्वपूर्ण हैं। इतना ही नहीं लोग अपने घरों के आस-पास हरियाली लाने के लिए भी पेड़-पौधे लगाते हैं। यूं तो पेड़ पौधे कुदरत के साथ-साथ हमें भी कई तरह से फायदे पहुंचाते हैं। लेकिन कुछ पेड़-पौधे हमारे लिए काफी खतरनाक होते हैं। इन्हीं में से एक है जाइंट होगवीड, जो किलर ट्री के नाम से भी जाना जाता है। 

गाजर की प्रजाति वाले इस पौधे का वैज्ञानिक नाम हेरकिलम मेंटागेजिएनम है। ये पौधा इतना जहरीला है कि इसे छूने भर से हाथों पर फफोले पड़ जाएंगे। वैसे तो यह पौधा देखने में इतना सुंदर लगता है कि अधिकांश लोगों का मन इसे छूने के लिए ललचा जाता है। इसे छूने के बाद ही 48 घंटे के अंदर इसके दुष्प्रभाव शरीर पर दिखने लगते हैं। वैज्ञानिको का मानना है कि यह पौधा सांप से भी ज्यादा जहरीला होता है। अगर आपने कभी इस पेड़ को स्पर्श कर दिया तो कुछ ही घंटों में आपको महसूस होगा की आपकी पूरी त्वचा जलने लगी है। बता दें कि इस किलर ट्री की लंबाई अधिकतम 14 फीट तक होती है। ये पौधा ज्यादातर न्यूयार्क, पेंनसेल्वेनिया, ओहियो, मेरीलैण्ड, वाशिंगटन, मिशिगन और हेम्पशायर में पाया जाता है।

इस पौधे को लेकर डॉक्टर्स का कहना है कि यदि कोई इस पौधे को स्पर्श कर ले तो, उसकी आंखों की रोशनी जाने का खतरा भी बढ़ जाता है। अभी तक इस पौधे से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए कोई सटीक दवा भी नहीं बन पाई है। जाइंट होगवीड के जहीरीले होने का कारण है इसके अंदर पाए जाना वाला सेंसआइजिंग फूरानोकौमारिंस नामक रसायन, जो इसे खतरनाक बनाती है। लेकिन इस पौधे की सबसे बड़ी खासियत है कि ये वातावरण में ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड को बैलेंस करने में अपनी अहम भूमिका निभाता हैं।
 

खबरें और भी हैं...