दैनिक भास्कर हिंदी: प्रियंका चोपड़ा ने लगाई ग्लोबल लेवल पर मदद की गुहार, कहा- भारत को आपकी जरूरत है

April 29th, 2021

डिजिटल डेस्क,मुंबई। कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने भारत को तबाह कर दिया है। चारों तरफ लाशों के ढेर है। अंतिम संस्कार के लिए लोगों को जगह नहीं मिल रही है। स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा चुकी है। ऐसे में एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने सोशल मीडिया के जरिए ग्लोबल पैमाने पर भारत के लिए मदद की गुहार लगाई है, जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। प्रियंका ने इस वीडियो में कहा कि, कृपया डोनेट कीजिए, अपने साधनों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कीजिए। भारत को आपकी जरूरत है। 

क्या कहा प्रियंका ने

  • प्रियंका चोपड़ा ने अपना वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है।
  • जिसमें प्रियंका ने कहा- ''हमें क्यों फर्क पड़ता है? ये समय इतना अति आवश्यक क्यों है? मैं लंदन में बैठी हूं और भारत में रह रहे अपने परिवार और दोस्तों से सुन रही हूं कि कैसे वहां अस्पतालों की क्षमता खत्म हो गई है, ICU में जगह नहीं है, एम्बुलेंस व्यस्त हैं, ऑक्सीजन सप्लाई कम है, शमशान घाटों में ढेरो अंतिम संस्कार एक साथ हो रहे हैं, क्योंकि मरने वालों की संख्या इतनी ज्यादा है। भारत मेरा घर है और इस समय घायल है।''
  • प्रियंका ने अपील कि, ''हमें एक ग्लोबल कम्युनिटी के तौर पर चिंता करने की जरूरत है और मैं बताती हूं कि, आपको चिंता करने की जरूरत क्यों है- क्योंकि जब तक सभी सुरक्षित नहीं होंगे, कोई सुरक्षित नहीं होगा। तो कृपया करके अपने साधनों का इस्तेमाल करें और अपनी एनर्जी को इस महामारी को रोकने में लगाएं. कृपया डोनेट करें।''
  • ''मुझे पता है कि बहुत से लोग हैं जो गुस्सा हैं और सोच रहे हैं कि हम इस जगह पर हैं ही क्यों? हमारे साथ ये क्यों हो रहा है? हम इस बारे में बात करेंगे लेकिन पहले वो करना है जो जरूरी है। कृपया डोनेट कीजिए, अपने साधनों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कीजिए।'' भारत को आपको जरूरत है।''
  • प्रियंका ने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि, ''कृपया डोनेट कीजिए। निक और मैं पहले से ही मदद कर रहे हैं और योगदान जारी रखे हुए हैं। हम सभी ने देखा है कि यह वायरस कहां तक फैला है. हमारे बीच एक महासागर के होने से कोई फर्क नहीं पड़ता। हमें इस वायरस को हराने की जरूरत है, और ऐसा करने के लिए हम सभी की आवश्यकता है।मेरे दिल की गहराई से, धन्यवाद।''

 

खबरें और भी हैं...