comScore

सरकारी रिकॉर्ड में नाम रजिस्टर्ड करने मांगी 1 लाख की रिश्वत, पकड़ाया भूमापन अधिकारी

सरकारी रिकॉर्ड में नाम रजिस्टर्ड करने मांगी 1 लाख की रिश्वत, पकड़ाया भूमापन अधिकारी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। बापू नगर में प्लॉट की जगह एक संस्था के नाम पर सरकारी रिकॉर्ड में पंजीबद्ध करने के लिए एक लाख की रिश्वत मांगने वाले भूमि अभिलेख विभाग के नगर भूमापन अधिकारी को एसीबी ने धर-दबोचा। गिरफ्तार आरोपी का नाम आश्रय मधुकर जोशी  (40) है। बताया जाता है कि आरोपी आश्रय जोशी सक्करदरा के पास रिश्वत की रकम लेने पहुंचा था, लेकिन उसे संदेह हो गया, जिससे वह बिना रिश्वत लिए ही वहां से चला गया। 

पुलिस सूत्रों के अनुसार भांडे प्लॉट चौक निवासी शिकायतकर्ता की  बापूनगर में पैतृक प्लॉट नंबर 114 था। यह प्लॉट 2693.47 वर्गफीट था। इसमें से 894.47 फीट जमीन का विवाद न्यायालय में शुरू था।  न्यायालय से पीड़ित (शिकायतकर्ता)  के पक्ष में निर्णय आया था। अतिरिक्त जगह के लिए पैसे की लेन-देन 1990 में बापूनगर गृहनिर्माण सहकारी संस्था के साथ हुई थी। न्यायालय के आदेश के बाद शिकायतकर्ता ने 894.47 वर्गफीट जगह बापूनगर में समाविष्ट करने के लिए भूमि अभिलेख विभाग के नगर भूमापन अधिकारी क्र. 2 के पास आवेदन किया था। इस आवेदन पर क्या निर्णय हुआ, इस बारे में जानकारी लेने के लिए शिकायतकर्ता ने आश्रय जोशी से मुलाकात की। उस समय जोशी ने शिकायतकर्ता से एक लाख रुपए की मांग की। 

शिकायतकर्ता ने आश्रय जोशी के बारे में एसीबी कार्यालय में शिकायत कर दी। एसीबी के अधिकारियों ने इस मामले की जांच की। उसके बाद एसीबी के ध्यान में यह बात आ गई कि आश्रय जोशी रिश्वत  लेने की तैयारी में है। उसे रंगे हाथ पकड़ने के लिए एसीबी ने सक्करदरा   स्थित क्रिकेट मैदान रकम देने के लिए बुलाया। 8 नवंबर को वह रकम लेने गया था, लेकिन उसे संदेह हो गया, उसने रकम नहीं ली। वह वापस लौट गया। उसके बाद जोशी चार- पांच दिनों तक गायब था।   गुरुवार को जोशी कार्यालय में पहुंचा। तभी एसीबी ने उसे धर-दबोचा। इस प्रकरण में आरोपी आश्रय जोशी के खिलाफ सक्करदरा थाने में मामला दर्ज किया गया। सक्करदरा पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

कमेंट करें
GaBNq
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।