दैनिक भास्कर हिंदी: गर्म हवा के थपेड़े से 192 बीमार, 5 भर्ती

May 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गर्म हवा के थपेड़े बर्दाश्त के बाहर हो रहे हैं। दोपहर में सड़कों पर सन्नाटा छाया हुआ है। गर्मी का असर लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ने लगा है। मनपा  के अनुसार शहर में चल रहे लू के थपेड़े की चपेट में आकर अभी तक 192 लोग बीमार हुए हैं। मनपा के अस्पतालों में 5 मरीज भर्ती किए गए हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि ये सभी लू के मरीज नहीं है। उनमें लू लगने जैसे लक्षण दिखाई दिए हैं। दूसरी तरफ मेयो और मेडिकल में लू के मरीजों के लिए कोल्ड वार्ड बनाए गए हैं, लेकिन यहां एक भी मरीज भर्ती नहीं किया गया है।

लू लगने के यह हैं लक्षण
चिकित्सक के अनुसार लू लगने से शरीर का पानी और नमक कम हो जाता है। गर्मी के चलते पसीना बनकर पानी और नमक शरीर के बाहर उत्सर्जित होने से कमजोरी महसूस होती है। शरीर में शुष्कता बढ़ जाने पर हाथ-पैर में जलन, सिर दर्द, आंखों में जलन, शरीर में अकड़न आदि लक्षण दिखाई देते हैं। शरीर का तापमान बढ़ने से चक्कर आते हैं। समय पर उपचार नहीं मिलने पर मौत का खतरा भी बना रहता है। 

मरीजों का तत्काल उपचार करने के लिए मनपा के आयसोलेशन अस्पताल, इंदिरा गांधी हॉस्पिटल, शासकीय मेडिकल कॉलेज तथा मेयो अस्पताल में स्वतंत्र कोल्ड वार्ड बनाए गए हैं। वार्ड में तापमान संतुलित रखने के लिए कूलर, पीने का ठंडा पानी, शासकीय मेडिकल अस्पताल तथा मेयो अस्पताल में लू के मरीजों को नहाने के लिए शॉवर आदि सुविधा उपलब्ध कराई गई है। हालांकि शासकीय मेडिकल और मेयो अस्पताल में अभी तक एक भी मरीज भर्ती नहीं होने की जानकारी मिली है। 5 मरीज मनपा द्वारा संचालित अस्पतालों में भर्ती हैं, जबकि 187 मरीजों का बाहृय रुग्ण विभाग में उपचार किया गया है। तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंचने पर लू के मरीज उपचार के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं। 

तीन लाेगों की मौत
तीन लोगों की विविध स्थानों पर लू लगने से मौत होने की जानकारी सामने आई है। पुलिस को तीनों की मौत लू लगने से होने का अंदेशा है। वाड़ी, नंदनवन और कोतवाली थाने में आकस्मिक मृत्यु के प्रकरण दर्ज किए हैं। मिनी माता नगर निवासी दशरथ जोगणे (60) को  कोतवाली थाना क्षेत्र में तेलीपुरा स्थित समाज भवन के सामने मृत अवस्था में पाया गया है। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई कर परिजनों को इसकी सूचना दी। मृत्यु के कारणों का स्पष्ट पता नहीं चला है, लेकिन पुलिस उपनिरीक्षक गुरनुले ने बताया कि दशरथ की मौत लू लगने से हुई होगी। वाड़ी थाना क्षेत्र के नवनीत नगर बस स्थानक पर 60 वर्षीय वृद्ध को भी मृत अवस्था में पाया गया है। नंदवन थाना क्षेत्र में भी नागभीड़ रेलवे लाइन के पास पुलिया के नीचे 60 वर्षीय व्यक्ति को भी मृत अवस्था में पाया गया है। इन दोनों शवों की पहचान नहीं हो पाई है।  

उपाय योजना पर काम:  शहर में लू जैसी स्थिति बनने के कारण 192 मरीज प्रभावित हुए है जिनमें से 5 को भर्ती भी किया गया है। हम लगातार उपाय योजना पर काम कर रहे हैं। डॉ. मंजूषा मठपति, नोडल आफिसर, मनपा

खबरें और भी हैं...