दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र में 32 फीसदी जल भंडार -  पिछले साल की अपेक्षा 14 फीसदी कम, औरंगाबाद में केवल 7 % 

March 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के बांधों में सिर्फ 32.88 प्रतिशत ही जल भंडार रह गया है जो पिछले साल की तुलना में करीब 14 प्रतिशत कम है। राज्य सरकार के जल संसाधन विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार सूखा प्रभावित मराठवाड़ा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले इलाके औरंगाबाद मंडल में स्थिति चिंताजनक है। वहां मौजूदा जल भंडार महज सात प्रतिशत है। पिछले साल इस समय जल भंडार 42.67 प्रतिशत था।        

पिछले साल की अपेक्षा 14 फीसदी कम                   

राज्य में 3,267 बांध हैं और पिछले साल इस समय उनमें 47.74 प्रतिशत जल भंडार था।  लोक निर्माण विभाग मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने मंगलवार को बताया कि राज्य सरकार ने ग्रामीण एवं अर्धग्रामीण इलाकों में पेयजल की मांग पूरा करने के लिये अब तक 2,636 टैंकर भेजे हैं। जल संसाधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले साल मानसून में अच्छी बारिश नहीं होने के कारण बरसात के मौसम के पहले कुछ महीने में बांधों में कम पानी जमा हो पाया।

औरंगाबाद में केवल 7 प्रतिशत पानी 

उन्होंने कहा कि कोंकण मंडल में 55.06 प्रतिशत जल भंडार है जबकि पिछले साल वहां 61.20 प्रतिशत जल भंडार था। पुणे मंडल में 46.67 प्रतिशत जल भंडार है जबकि 2018 में वहां 60.26 प्रतिशत जल भंडार था। उन्होंने कहा कि बाकी की तुलना में इन दोनों क्षेत्रों में जल भंडार की स्थिति थोड़ा बेहतर है। 

 

खबरें और भी हैं...