दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई में कोरोना टीके की दूसरी खुराक लेने नहीं आए 50 हजार लोग, चंद्रपुर के एक गांव में वैक्सीनेशन का बहिष्कार

June 11th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। टीके की कमी के कारण एक ओर लोगों को कोरोना संक्रमण की पहली खुराक नहीं मिल पा रही हैतो दूसरी ओर प्रशासन हजारों ऐसे लोगों की तलाश कर रहा है जिन्होंने पहली खुराक तो ले ली है लेकिन दूसरी खुराक लेने नहीं आ रही है। सिर्फ मुंबई में ही ऐसे 50 हजार से ज्यादा लोग हैं जिनके दूसरी खुराक लेने का समय आ चुका है लेकिन वे वैक्सीन सेंटर नहीं पहुंचे। मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर ने लोगों से वैक्सीन सेंटर पहुंचकर दूसरी खुराक लेने की अपील की है। शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में पेडणेकर ने कहा कि कई ऐसे लोग हैं जिन्होंने टीके की पहली खुराक ले ली है लेकिन दूसरी खुराक लेने से डर रहे हैं। हम ऐसे लोगों की तलाश करेंगे और उन्हें टीका लगवाएंगे। पेडणेकर ने कहा कि खासतौर पर झुग्गी बस्तियों में रहने वाले बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिनके मन में कोरोना टीके को लेकर आशंकाएं हैं। हम ऐसे लोगों का डर दूर करने के लिए जागरूकता अभियान चलाएंगे। दरअसल टीका तभी असरकारक होगा और पर्याप्त प्रतिरोधक क्षमता बना पाएगा जब समय पर इसकी दूसरी खुराक ली जाए। ऐसे में सिर्फ एक खुराक लेने वालों के वापस न लौटने से अधिकारी परेशान हैं। अब ऐसे लोगों से फोन पर संपर्क कर पूछा जा रहा है कि उन्होंने दूसरी खुराक क्यों नहीं ली। कोरोना संक्रमण के टीके की कमी के चलते प्रशासन उन लोगों को टीके लगाने में प्राथमिकता दे रहा है जिन्हें दूसरी खुराक लगाई जानी है। ऐसे लोग सीधे सेंटर पहुंचकर टीके लगवा सकते हैं।महानगर मुंबई में 93 लाख 50 हजार से ज्यादा वयस्क हैं जिन्हें टीका लगाया जाना है। इनमें से 31 फीसदी को कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए टीके की पहली या दोनों खुराक लगी है। आंकड़ों के मुताबिक महानगर में अभी सिर्फ 7 लाख 80 हजार लोगों को टीके की दोनों खुराक लग पाई है। वहीं राज्य की बात करें तो गुरूवार तक राज्य के 2 करोड़ 52 लाख 66 हजार 596 लोगों को पहली या दोनों खुराक लग चुकी थी।

बीएमसी ने तय की दर 

इस बीच मुंबई मनपा (बीएमसी) ने कोरोना टीके की दर तय की है। कोविशिल्ड की प्रति खुराक 780 रुपए, कोवैक्सिन की प्रति खुराक 1410 व स्पुतनिक की एक खुराक के लिए 1145 रुपए देना होगा। इसमें 5 फीसदी जीएसटी और 150 रुपए सेवा शुल्क शामिल है। बीएमसी ने कहा कि निर्धारित दर से अधिक वसूल करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। इस बारे में  complaint.epimumbai@gmail.com पर शिकायत की जा सकती है। 

खबरें और भी हैं...