दैनिक भास्कर हिंदी: जर्जर होने के कारण मनपा ने गिराई 90 साल पुरानी इमारत

July 1st, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। 90 साल तक शहर की पहचान रही लोहापुल चौराहा स्थित ‘मोहन भवन’ की आकर्षक इमारत अब इतिहास बन चुकी है। जर्जर हो चुकी इमारत को मनपा अतिक्रमण निर्मूलन विभाग ने शनिवार को तोड़ना शुरू किया। सुबह शुरू हुई कार्रवाई देर शाम तक चली। शाम तक इमारत का लगभग 80 फीसदी हिस्सा ढहाया गया। आकर्षक इमारत होने से इसे देखने के लिए दिन भर राहगिरों की भीड़ लगी रही। ऐहतियातन मनपा अग्निशमन विभाग ने इमारत को चारों ओर से घेर रखा था, ताकि नागरिकों को कोई नुकसान न पहुंचे।

अंग्रेजी शासनकाल के दौरान वर्ष 1929 में यह इमारत बनी थी। लक्ष्मीबाई जायस्वाल के नाम से यह इमारत बतायी गई है। इमारत के ऊपरी हिस्से में गुंबद और इमारत को हेरिटेज लुक होने से लोग इस ओर सहज ही आकर्षित होते थे। शहर की एक पहचान के तौर पर भी इसे देखा जाता था। लोग इसे हेरिटेज भी समझते थे। हालांकि यह हेरिटेज में शामिल नहीं थी।

पिछले काफी समय से यह जर्जर इमारतों की सूची में शामिल थी। हालांकि यहां कोई रहता नहीं था। इमारत में गोदाम था, जहां इलेक्ट्रॉनिक्स सामान थे। इस इमारत को ढहाने के संबंध में मनपा ने कई नोटिस भी जारी किए। चौराहे पर होने से इससे जान-माल के नुकसान का खतरा अधिक था। ऐसे में मनपा ने खुद ही शनिवार को इसे तोड़ने का निर्णय लिया। सुबह से शाम तक कार्रवाई चली। भीड़-भाड़ वाला इलाका और इमारत जर्जर होने से मनपा संभलकर काम करती रही।