शकंजे में दो साल बाद : उत्तर प्रदेश के माफिया का फरार बेटा पुणे से गिरफ्तार, गैंग रेप मामले का आरोपी

July 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। उत्तर प्रदेश के भदोही से समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्णु मिश्रा को पुणे से गिरफ्तार कर लिया है। सामूहिक दुष्कर्म और धोखाधड़ी के आरोप में विष्णु दो सालों से फरार था और उस पर एक लाख का ईनाम था। उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने पुणे पुलिस की मदद से रविवार रात विष्णु को पुणे के हडपसर इलाके से दबोचा जहां वह ऑक्सीजन विला नाम की आलीशान इमारत में किराए के घर में रहता था। 

पुणे पुलिस आयुक्त अमिताभ गुप्ता ने आरोपी के पकड़े जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि वह कितने दिनों से यहां रह रहा था इसकी जांच की जा रही है। विष्णु का पिता विजय मिश्रा पूर्वी उत्तर प्रदेश के भदोही से चार बार विधायक रह चुका है वह 2020 से जेल में है। उसके खिलाफ उसके ही रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी ने जबरन संपत्ति पर कब्जा करने, धोखाधड़ी और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई थी। उसे मध्य प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तार किया था फिलहाल वह आगरा की जेल में बंद है। इसके अलावा उसकी पत्नी और पूर्व एमएलसी रामलली मिश्रा फिलहाल जमानत पर है। विष्णु अगस्त 2020 से ही फरार था। उसके खिलाफ सितंबर 2020 में ही पुलिस ने लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया था। 

पुलिस ने रखा था एक लाख रुपए का इनाम 

काफी तलाश के बाद भी वह नहीं मिल रहा था। उस पर 25 हजार रुपए का ईनाम था जिसे कुछ दिनों पहले ही बढ़ाकर एक लाख रुपए कर दिया गया था। इसी बीच उत्तर प्रदेश पुलिस को भनक लगी कि मिश्रा के कई रिश्तेदार पुणे में रहते हैं जिससे उसके यहां छिपे होने का शक हुआ। उत्तर प्रदेश एसटीएफ की टीम 10 दिन पहले पुणे पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से उसने विष्णु के बारे में गोपनीय जानकारियां जुटानी शुरू की। उसके यही होने की पुष्टि के बाद उसे दबोच लिया गया।