comScore

कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021!

कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021!

डिजिटल डेस्क | श्रम और रोजगार मंत्रालय कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021| कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (आधार: 1986-87=100) माह, जून 2021के लिए 8अंक बढ़कर क्रमशः 1057 (एक हजार सत्तावन) और 1065 (एक हजार पैंसठ) रहे।कृषि मजदूरों और ग्रामीण मजदूरों के सामान्य सूचकांक में वृद्धि मुख्य रूप से दालों, सब्जियों और फलों, प्याज, मांस बकरी, मछली की कीमतों में वृद्धिखाद्य समूह सूचकांक (( ) 6.00 अंक) और ( ) 6.10 में वृद्धि के कारण हुई क्योंकि दालें, सब्जियां और फल, प्याज, बकरी का मांस, ताजा/सूखी मछली, सरसों का तेल, गुड़ आदि की कीमतों में वृद्धि हुई। सूचकांक में वृद्धि/गिरावट अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग रही। कृषि मजदूरों के मामले में, 19 राज्यों में 1 से 10 अंक की वृद्धि और जम्मू -कश्मीर राज्य में 10 अंकों की कमी दर्ज की गई। तमिलनाडु राज्य 1256 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में सबसे शीर्ष पर रहा जबकि हिमाचल प्रदेश राज्य 824 अंकों के साथ सबसे नीचे रहा।

ग्रामीण मजदूरों के मामले में, 19 राज्यों में 2 से 10 अंक की वृद्धि और जम्मू-कश्मीर राज्य में 9 अंकों की कमी दर्ज की। तमिलनाडु राज्य 1241 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में सबसे शीर्ष पर है जबकि बिहार राज्य 863 अंकों के साथ सबसे नीचे रहा। राज्यों में, कृषि मजदूरों के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या में अधिकतम वृद्धि केरल राज्य ( 10 अंक) में दर्ज की गई। मुख्य रूप से मूंगफली के तेल, सब्जियों और फलों, ताजा मछली, मांस बकरी, दूध, चीनी, प्याज, मिर्च-सूखी, गुड़, शर्टिंग कपड़ा कपास (मिल), प्लास्टिक के जूते, दवा आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण ग्रामीण मजदूरों के मामले में चार राज्यों- केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश ( 10 अंक) ने वृद्धि दर्ज की गई। इसके विपरीत, गेहूं आटा, सब्जियों और फलों, मिर्च की कीमतों में गिरावट के कारण कृषि और ग्रामीण मजदूरों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या में अधिकतम कमी जम्मू -कश्मीर राज्य (क्रमशः -10 अंक और -9 अंक) की कमी दर्ज की गई। सीपीआई-एएल और सीपीआई-आरएल पर आधारित मुद्रास्फीति की दर जून 2021 में बढ़कर 3.83 प्रतिशत और 4.00% प्रतिशत हो गई।

यह मई, 2021 में क्रमश: 2.94 प्रतिशत और 3.12 प्रतिशत थी। पिछले वर्ष यह इसी महीने के दौरान क्रमशः 7.16% और 7.00 प्रतिशत रही थी। खाद्य मुद्रास्फीति जून, 2021 में 2.67% और 2.86% रही, जो मई, 2021 में क्रमशः 1.54% और 1.73% रही थी और पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान यह क्रमशः 8.57% और 8.41% थी। अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या (सामान्य तथा समूह के अनुसार): समूह कृषि श्रमिक ग्रामीण श्रमिक मई,2021 जून,2021 मई,2021 जून,2021 सामान्य सूचकांक 1049 1057 1057 1065 खाद्य 992 1001 999 1008 पान,सुपारी आदि. 1809 1820 1822 1832 ईंधन एवं प्रकाश 1131 1134 1126 1130 कपड़े,बिस्तर,जूते 1056 1063 1070 1078 विविध 1097 1102 1101 1105 श्रम ब्यूरो के महानिदेशक श्री डीपीएस नेगी ने सूचकांक जारी करते हुए कहा कि कृषि श्रमिकों और ग्रामीण मजदूरों के सामान्य सूचकांक में वृद्धि मुख्य रूप से दालों, सब्जियों और फल, प्याज, बकरी का मांस, ताजा/सूखी मछली, सरसों का तेल, गुड़, शर्टिंग कपड़ा (सूती मिल), प्लास्टिक के जूते, और मिट्टी के तेल आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण हुई है। जुलाई, 2021 के लिए सीपीआई-एएल और आरएल 20 अगस्त, 2021 को जारी किया जाएगा।

कमेंट करें
RxD83
NEXT STORY

Raj Kundra Pornography Case: खुद बड़ी कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन हैं राज कुंद्रा पर आरोप लगाने वाली ये हसीनाएं

Raj Kundra Pornography Case: खुद बड़ी कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन हैं राज कुंद्रा पर आरोप लगाने वाली ये हसीनाएं

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पोर्न मूवीज मामले में एक और राज कुंद्रा की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। दूसरी तरफ उन पर इल्जामों की बौछार करने वाली हसीनाओं की कोई कमी नहीं हैं। पर मजेदार बात ये है कि जो हसीनाएं राज कुंद्रा के खिलाफ मोर्चा खोले बैठीं हैं वो कभी खुद भी कॉन्ट्रोवर्सी का हिस्सा रही हैं। चलिए जानते हैं किस किस कॉन्ट्रोवर्सी में उलझी हैं ये कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन्स:

पूनम पांडे 

poonam pandey again strips , but this time for good cause

  •  पूनम का पहला विवाद 2011 में आया जब उन्होंने भारत के विश्व कप में जीतने पर नग्न होने का वादा किया था। हालांकि उनका ये वादा पूरा नहीं हो सका क्योंकि BCCI ने ऐसा करने कि उसे अनुमति नहीं दी। 
  • पूनम का दूसरा विवाद तब हुआ जब उन्होंने बाथरुम सीक्रेट्स नाम की एक नई यूटयूब सीरिज शुरु की थी पर कॉन्ट्रोवर्शियल कंटेंट होने के कारण यू टयूब ने ही उस पर रोक लगा दी। 
  • इसी साल फरवरी में पूनम पांडे ने  राज कुंद्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी और आरोप लगाया था कि दोनों पक्षों के बीच हुआ समझौता समाप्त होने के बाद भी राज उनके वीडियोज का उपयोग कर पैसे कमा रहा है। पूनम के मुताबिक छह महीने से उन्हें अश्लील फोन भी आ रहे हैं। 
  • पूनम पांडे को लेकर सबसे बड़ा विवाद वो था जब क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की फोटो के बगल में पूनम की न्यूड तस्वीर लगा कर उन्हें भगवान की तरह पेश किया गया। इसी तस्वीर में एक पाकिस्तानी क्रिकेटर उन्हें प्रणाम करता नजर आ रहा था।
  • पूनम पांडे ने एक  और चर्चित स्टेटमेंट ये था कि रवैया आपके अंडरवियर की तरह है, आपको इसे पहनना चाहिए, लेकिन इसे कभी नहीं दिखाना चाहिए।

2) शर्लिन चोपड़ा

Sherlyn Chopra Latest Photos: Current Photogallery, Images, Pics on Sherlyn Chopra at News18

  • शर्लिन सबसे पहले उस समय चर्चा में आई थीं जब उन्होंने प्लेब्वॉय मैगजीन के लिए न्यूड पोज दिया था। शर्लिन पहली भारतीय महिला थीं जिन्होंने प्लेब्वॉय के लिए न्यूड फोटोशूट करवाया था। 
  • कुछ समय पहले शर्लिन अपने लिए भारत रत्न सम्मान की मांग कर विवादों में आ चुकीं हैं। उन्होंने ट्वीट किया था कि 'मुझे भारत रत्न मिलना चाहिए। भारत का सबसे बड़ा सम्मान सबसे बड़ी सेवा के लिए मुझे मिलना चाहिए। सीरियसली।'
  • शर्लिन ने बताया था कि वह महिलाओं की ओर भी आकर्षित होती हैं। उन्होंने कहा था,'मैं विद्या बालन के साथ पैशनेट सीन करना चाहती हूं। मैं उनकी दीवानी हूं। अगर वो सुन रही हों तो मैं उनको कहना चाहती हूं कि विद्या, मैं सिद्धार्थ से बेहतर आपकी केयर कर सकती हूं।'
  • शर्लिन ने दिल्ली गैंगरेप पीड़िता के पक्ष में इस तरह का बयान दिया था कि वह खुद विवादों में घिर गई थी। उन्होंने कहा था कि अगर उनके रेप के बाद देश में सभी लड़कियों की सुरक्षा की गारंटी मिले तो वे अपना रेप करवाने के लिए तैयार हैं।
  • शर्लिन की फ़िल्म 'कामसूत्र 3 डी' काफी चर्चाओं में रही थी। लेकिन बाद में फिल्म के डायरेक्टर और उनका एक विवाद हो गया। शर्लिन ने पॉल पर आर्थिक धोखाधड़ी करने का आरोप लगा एफआईआर दर्ज करवाई थी।

3) पुनीत कौर 

Puneet kaurpagesepsitename%%

यू टयूबर पुनीत कौर ने शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा पर आरोप लगाया है कि राज ने एक बार उन्हें अपने ऐप हॉटशॉट्स के लिए सीधा संदेश भेजा था।

4) सागरिका शोना सुमन 

इस एक्ट्रेस ने राज कुंद्रा के खिलाफ पुलिस में की शिकायत दर्ज, मिल रही है जान से मारने की धमकी

अभिनेत्री और मॉडल सागरिका शोना सुमन ने टीवी निर्मता और बिग बॉस 14 के कंटेस्टेंट रहे विकास गुप्ता पर अनुचित और सेक्सिस्ट व्यवहार करने का आरोप लगाया था। शोना सुमन ने आरोप लगाते हुए कहा था कि 2018 में विकास गुप्ता ने एक नामी नाइट क्लब में शोना सुमन के ड्रेसिंग सेंस को लेकर अपमानजनक और सेक्सिस्ट कमेंट किया था। 

5) गहना वशिष्ठ

गंदी बात' वाली गहना वशिष्ठ पर गैंगरेप का भी आरोप

टेलीविजन अभिनेत्री गहना वशिष्ठ ने उस समय विवाद खड़ा कर दिया था जब उन्हें कथित तौर पर अश्लील वीडियो शूट करने और अपलोड करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। बाद में अपराध शाखा ने अभिनेत्री को हिरासत में ले लिया।

NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020 : लवलीना के जोरदार पंचो ने जगाई मेडल की उम्मीद

Tokyo Olympics 2020 : लवलीना के जोरदार पंचो ने जगाई मेडल की उम्मीद

डिजिटल डेस्क, टोक्यो। वेल्टवेट कैटेगरी में भारत की बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने टोक्यो ओलंपिक में शानदार शुरुआत की है। उन्होंने राउंड ऑफ 16 (64-69 किग्रा वर्ग) में जर्मनी की एपेट्ज नेदिन को 3-2 शिकस्त दी। इस मैच को जीतने के साथ ही उन्होंने अंतिम आठ में जगह बना ली है। अब वह मेडल से बस एक जीत दूर हैं। अगर लवलीना अगला मुकाबला जीत जाती हैं तो भारत के लिए एक और पदक पक्का हो जाएगा। 

24 साल की लवलीना बोरगोहेन ने असम के एक छोटे से गांव से ओलंपिक तक का सफर तय किया है। लवलीना बोरगोहेन असम के गोलाघाट जिले  के छोटे से गांव बरोमुखिया की रहने वाली हैं। उनके गांव में महज 2 हजार की आबादी है। 

दो बार विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीत चुकीं लवलीना असम की पहली बॉक्सर हैं जिन्होंने ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई किया है। लवलीना बोरगोहेन टोक्यो ओलंपिक में 69 किलोग्राम वर्ग में हिस्सा ले रही हैं। 

असम के मुख्यमंत्री ने साइकिल चलाकर शुभकामनाएं दी

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा की अगुवाई में विधानसभा अध्यक्ष बिस्वजीत दैमारी और विपक्ष के नेता देवव्रत सैकिया ने साइकिल चलाकर टोक्यो ओलंपिक में असम की एकमात्र खिलाड़ी लवलीना बोरगोहेन को सफलता हासिल करने के लिए शुभकामनाएं दी।
उनके साथ कई मंत्रियों, विधायकों और वरिष्ठ अधिकारियों ने ‘गो फॉर ग्लोरी - लवलीना’ का आयोजन किया। यह साइकिल रैली ‘लास्ट गेट’ से शुरू हुई और शहर के नेहरू स्टेडियम में संपन्न हुई।


 

NEXT STORY

बच्चों को लेकर पजेसिव हैं पॉप स्टार शकीरा, बताया कैसा चाहती हैं बच्चों का बचपन

बच्चों को लेकर पजेसिव हैं पॉप स्टार शकीरा, बताया कैसा चाहती हैं बच्चों का बचपन

डिजिटल डेस्क, लॉस एंजिल्स। हॉलीवुड की टॉप एंड हॉट सिंगर शकीरा तो याद ही होंगी आपको। अपने गानों से सबका दिल जीतने वाली और फुटबॉल के फीफा वर्ल्ड कप पर छा जाने वाली शकीरा इन दिनों मदरहुड इंजॉय कर रही हैं। अपने बच्चों के बचपन पर भी खुलकर बात कर रही हैं।

Top 10 Shakira Songs (Updated 2017) | Billboard | Billboard

गायिका शकीरा का कहना है कि वह अपने बच्चों को एक सामान्य बचपन देने की कोशिश कर रही हैं और वह अपना खुद का संगीत उनके सामने बजाने से बचती हैं। वाका वाका सिंगर के उनके साथी और फुटबॉल स्टार जेरार्ड पिक के साथ दो बेटे, मिलन(आठ) और साशा (छह) साल के हैं।

Gerard Pique reveals how he wooed Shakira… by asking about the weather! | Goal.com

femalifirst.co.uk की रिपोर्ट के अनुसार, शकीरा ने ईटी कनाडा को बताया, मैं (अपने बच्चों को) अपने गाने नहीं सुनाती हूं। मैं अपने घर में अपना खुद का संगीत बजाने से बचने की कोशिश करती हूं। मैं उन्हें नॉर्मल वातावरण देने की कोशिश करती हूं।

27 of Shakira and Gerard Piqué's Family Photos with Their Kids

44 वर्षीय गायिका का कहना है कि वह इस बात से इनकार नहीं कर सकतीं कि वह एक पब्लिक फिगर हैं। उन्होंने आगे कहा कि, मैं इनकार नहीं कर सकती कि बच्चे कभी ये नहीं जानेंगे कि वो ऐसे माता पिता की संतान हैं जो पब्लिक फिगर हैं। लेकिन हमसे जितना हो सकता है उतना सामान्य स्थिति देने की कोशिश करते हैं और हकीकत में बहुत ही सादे लोगों की तरह जिंदगी जीते हैं।

17 Thoughtful Parenting Quotes From Shakira | HuffPost Life

शकीरा ने हाल ही में बच्चों के अलग होने के बारे में एक अच्छा निबंध लिखा था जिससे उन बच्चों पर रोशनी डाली जा सके जो अपने माता-पिता से अलग हो गए हैं और अमेरिकी सीमा पर हिरासत में हैं।

Shakira, Justin Bieber and Seal outshone by little-known French singer at awards ceremony! - OK! Magazine

उन्होंने लिखा ,कोलंबिया दुनिया के सबसे खूबसूरत और विविध देशों में से एक है, लेकिन असमानता और सामाजिक गतिशीलता की कमी से भरा हुआ है। इसके विपरीत, अमेरिका मुझे एक ऐसी जगह लगती है जिसे हमेशा समान अवसर और असीमित आकांक्षाओं के प्रतिमान के रूप में रखा जाता है, जहां कोई भी सफल हो सकता है।