दैनिक भास्कर हिंदी: किसानों की मांगों को लेकर अन्ना हजारे 30 जनवरी से करेंगे अनशन शुरु

January 21st, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने सोमवार को यहां किसानों से जुड़ी मांगों को लेकर अपने गांव रालेगांव सिद्धि में 30 जनवरी से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की घोषणा की है। उन्होने कहा कि वह सरकार द्वारा मांगे पूरी होने तक इसे जारी रखेंगे। अन्ना हजारे ने यहा कन्स्टिट्यूशन क्लब में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद लोकपाल एवं लोकायुक्त अधिनियम कानून को लागू नहीं करने पर केन्द्र सरकार की निंदा करते हुए कहा कि किसी संवैधानिक संस्था का आदेश लागू नहीं करना देश को लोकतंत्र से तानाशाही की ओर ले जाता है। केन्द्र की मोदी सरकार भी तानाशाही रवैया अपना रही है। उन्होंने कहा कि यह सरकार है या कोई बनिया की दुकान यह समझ से परे है।

हजारे ने कहा कि लोकपाल होता तो राफेल घोटाला नही हुआ होता। अन्ना ने कहा कि राफेल से जुडे़ कई कागजात उनके पास हैं और वे इसका अध्ययन करने के बाद इस संबंध में प्रेस वार्ता करके मीडिया को इसकी जानकारी दूंगा। अन्ना ने कहा कि इससे पहले सरकार कह चुकी है कि वह लोकपाल कानून पारित कर इसे लागू करेगी। इसके अलावा किसानों को उनकी फसल पर डेढ़ गुना सम र्थन मूल्य देगी, लेकिन मोदी सरकार ने कुछ नही किया। अब वे सरकार के झूठे आश्वासनों पर भरोसा नही करेंगे और आखिरी सांस तक वह अब भूख हड़ताल जारी रखेंगे। हजारे ने बताया कि उनके इस आंदोलन को राष्ट्रीय किसान महापंचायत ने समर्थन दिया है और देशभर के किसान संगठन भी भूख हड़ताल में शामिल होंगे।