• Dainik Bhaskar Hindi
  • Crime
  • Another act in UP: After the rapes in Gorakhpur, the poor people burned their bodies with cigarettes

दैनिक भास्कर हिंदी: यूपी में एक और हैवानियत: गोरखपुर में रेप के बाद दरिंदों ने सिगरेट से जलाया शरीर, लखीमपुर मामले में आरोपी गिरफ्तार

August 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, गोरखपुर। विकास दुबे जैसे कुख्यात अपराधी का एनकाउंटर करने के बाद अपनी पीठ थपथपाने वाली उत्तरप्रदेश पुलिस का डर खत्म होता नजर आ रहा है। यहां बीते 48 घंटों के अंदर दो नाबालिग बच्चियों के सा​थ दुष्कर्म के बाद हैवानियत की घटनाएं सामने आईं हैं। लखीमपुर खीरी में नाबालिग लड़की से रेप का मामला सामने आने के बाद अब गोरखपुर में दरिदों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। यहां के बड़हलगंज थाना क्षेत्र के ग्राम बेलसडी में 17 वर्षीय दलित लड़की से रेप किया गया है। आरोपियों ने सिगरेट से नाबालिग के शरीर को कई जगह जला दिया है। पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं लखीमपुर में 13 साल की बच्ची से दुष्कर्म के मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पीड़िता के माता-पिता मजदूरी करते हैं। पीड़िता के पिता ने कहा कि शनिवार रात 8 बजे के आसपास लड़की अपने घर के सामने स्थित हैंड पंप पर पानी भरने गई थी। इतने में अर्जुन निषाद नाम का शख्स अपने एक अज्ञात साथी के साथ बाइक से आया और मेरी लड़की का मुंह दबाकर उसे उठा ले गया। इसके बाद घरवालों ने लड़की को ढूंढना शुरू किया, लेकिन उसका कहीं भी पता नहीं चला। रविवार सुबह कुछ लोगों ने लड़की को डेहरीभार के पास देखा। लोगों ने उससे घटना के बारे में पूछा। सूचना पाकर लड़की के परिजन भी मौके पर पहुंचे। नाबालिग ने इसके बाद पूरी घटना अपने परिजनों को बताई।

उधर, घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस लड़की को गोला के अस्पताल लेकर गई, जहां से डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस ने नाबालिग से पूछताछ के बाद आरोपी पर प्रकरण दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश शुरू कर दी है। 

लखीमपुर खीरी में भी हैवानियत
इससे पहले लखीमपुर खीरी में दरिंदों ने एक नाबालिग दलित लड़की के साथ वहशीपन की हदें पार कर दीं। शौच के लिए घर से बाहर गई 13 साल की छात्रा के साथ न सिर्फ बदमाशों ने गैंगरेप किया, बल्कि उसकी आंखें फोड़ दीं। आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है। दोनों आरोपियों को पहले ही धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इस घटना के सामने आने के बाद से विपक्ष लगातार योगी सरकार पर हमलावर है। 

पुलिस ने पीड़िता की आंख फोड़े जाने की बात से किया इनकार
वहीं पुलिस ने इस बात से इनकार किया है कि लखीमपुर खीरी पुलिस ने इस बात से इनकार किया है कि शुक्रवार को दुष्कर्म किए जाने के बाद गला घोंटकर मार दी जाने वाली 13 वर्षीय पीड़िता के आंख को फोड़ा गया था और उसके जीभ को काटा गया था। लखीमपुर खीरी के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ऐसा कुछ भी नहीं था, जिससे यह पता चले की 13 वर्षीय लड़की के आंख को फोड़ा गया है या फिर जीभ को काटा गया है।

दोनों आरोपियों पर हत्या और दुष्कर्म का केस दर्ज
एसपी ने कहा कि उसके आंख के पास कुछ निशान थे, जो गन्ने के पत्तों की वजह से हो सकते हैं। उसका जीभ कटा हुआ नहीं था। उन्होंने कहा कि बच्ची की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पुष्टि हुई कि उसके साथ दुष्कर्म किया गया था और उसका गला घोंटा गया था। हालांकि पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह नहीं पता चला कि उसके आंख को फोड़ा गया था और जीभ को काटा गया था। एसपी सत्येंद्र कुमार ने कहा कि पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ हत्या और सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। दोनों के खिलाफ नेशनल सिक्युरिटी एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया जाएगा।

पिता ने आंख फोड़ने का आरोप लगाया था
पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया था कि उसके बच्ची आंख को फोड़ दिया गया है और जीभ को काटा गया है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक ट्वीट में कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध सबसे ज्यादा बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि नाबालिग के साथ दुष्कर्म और जघन्य हत्या मानवता को शर्मशार करने के लिए काफी है।

सपा प्रमुख मायावती ने राज्य सरकार पर साधा निशाना
बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने भी लखीमपुर खीरी दुष्कर्म मामले में उत्तरप्रदेश की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यूपी के लखीमपुर खीरी के पकरिया गांव में दलित नाबालिग के साथ दुष्कर्म के बाद उसकी नृशंस हत्या अति-दुखद व शर्मनाक। ऐसी घटनाओं से सपा व वर्तमान भाजपा सरकार में फिर क्या अन्तर रहा? सरकार आजमगढ़ के साथ खीरी के दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कार्रवाई करे, बीएसपी की यह मांग है।

लखीमपुर खीरी गांव की नाबालिग लड़की शुक्रवार दोपहर से लापता हो गई थी। उसका शव उसी दिन गन्ने के खेत से बरामद हुआ था।