दैनिक भास्कर हिंदी: एंटालिया मामला : एनआईए ने दर्ज कराया वाझे के ड्राईवर का बयान, अहम हो सकती है गवाही 

April 20th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। एंटीलिया स्कॉर्पियो और मनसुख हिरेन हत्याकांड की छानबीन कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मंगलवार को मामले के मुख्य आरोपी सचिन वाझे के ड्राइवर का बयान मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराया। एनआईए वाझे के ड्राइवर इंद्रजीत साल्वे को लेकर मुंबई के किला कोर्ट पहुंची थी, जहां उसका बयान दर्ज किया गया। इस मामले में साल्वे की गवाही अहम हो सकती है क्योंकि वह एंटीलिया के बाहर जिलेटिन की छड़े लदी स्कॉर्पियो कार खड़ी करने के बाद वाझे जिस इनोवा कार से भागा था उसे उसका ड्राइवर ही चला रहा था। इसलिए साल्वे इस मामले में न सिर्फ वझे का राजदार है बल्कि वह अपराध में भी शामिल रहा है। सूत्रों के मुताबिक साल्वे को अगले कुछ दिनों में गिरफ्तार किया जा सकता है जिसके बाद उसे मामले में वादामाफ गवाह बनाया जा सकता है। इस मामले में एनआईए सचिन वाझे समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है जिसमें निलंबित एपीआई रियाजुद्दीन काजी, निलंबित कांस्टेबल विनायक शिंदे और बुकी नरेश गोर शामिल हैं। फिलहाल सभी आरोपी न्यायिक हिरासत में हैं। कुछ दिनों पहले जांच टीम की कमान संभालने वाले आईजी ज्ञानेद्र वर्मा की अगुआई में एनआईए की टीम ने सोमवार को ठाणे स्थित मनसुख हिरेन के घर जाकर उनके परिवार वालों से मुलाकात की थी। इस दौरान एसपी विक्रम खलाते और दूसरे अधिकारी भी मौजूद थे।

एनआईए अधिकारियों ने करीब साढे तीन घंटे परिवार से बातचीत की थी। बता दें कि इसी साल 25 फरवरी को उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक और धमकी भरे पत्र के साथ स्कॉर्पियों कार मिली थी। बाद में 5 मार्च को इस कार के मालिक मनसुख हिरन का शव ठाणे की एक खाड़ी से बरामद किया गया है। जांच के बाद एनआईए का दावा है कि पूरी साजिश वाझे ने मामला सुलझाकर प्रसिद्धि हासिल करने के लिए रची थी और पोल खुलने के डर से उसने हिरन का कत्ल करवा दिया।  

 

खबरें और भी हैं...