दैनिक भास्कर हिंदी: बिपिन रावत बोले- पाकिस्तान शांति चाहता है तो आतंकी घुसपैठ बंद करें

May 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, पहलगाम। अगर पाकिस्तान वाकई शांति चाहता है तो हम चाहते हैं कि वह सबसे पहले अपनी तरफ से आतंकवादियों की घुसपैठ कराना बंद करें। ये कहना है आर्मी चीफ बिपिन रावत का। श्रीनगर से 95 किलोमीटर दूर पहलगाम में एक कार्यक्रम में जनरल रावत शामिल होने पहुंचे थे, इस दौरान उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए ये बात कही।

पाकिस्तान सीमा पर नहीं चाहता शांति
बिपिन रावत ने कहा कि घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तान संघर्ष विराम का उल्लंघन करता है। भारत सीमा पर शांति चाहता है, लेकिन पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता। पाकिस्तान की तरफ से लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम के उल्लंघन के कारण जान-माल का नुकसान हुआ है। जब भी पाकिस्तान की तरफ से ऐसी हरकत होती है तो हमे इसका जवाब देना पड़ता है। हम चुप नहीं बैठ सकते। अगर संघर्ष विराम का उल्लंघन होगा तो हमारी तरफ से भी कार्रवाई की जाएगी।

 


शांति का फायदा लोगों को मिले
जम्मू कश्मीर में आतंकवाद रोधी अभियान को रोकने को लेकर आर्मी चीफ ने कहा कि लोगों को शांति भरा वातावरण देना ही इस अभियान को रोकने का मकसद है। मुझे लगता है कि लोग इस बात से खुश है। उन्होंने कहा, मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि अगर शांति का यह माहौल कायम रहा तो हम NICO (नॉन इनिशिएशन ऑफ कॉम्बेट ऑपरेशन) को जारी रखने के बारे में विचार करेंगे। लेकिन अगर स्थितियां नहीं सुधरी और आतंकी गतिविधियां जारी रही तो हम ऐसा नहीं कर सकते।

 

 

PAK गोलीबारी में 12 की मौत
बता दें कि पाकिस्तान इंटरनेशनल बॉर्डर और एलओसी पर पिछले 11 दिन से लगातार गोलीबारी कर रहा है। इससे सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले 40 हजार से ज्यादा लोग घर-बार छोड़कर राहत शिविरों में शरण लेने चले गए है। पाकिस्तान की फायरिंग में अब तक 12 लोगों की मौत हो चुकी है। पाकिस्तान की इस हरकत का भारतीय सेना भी मुंहतोड़ जवाब दे रही है।