श्रम राज्यमंत्री का आश्वासन : अकोला में कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों की मौत मामले में जल्द होगी गिरफ्तारी

December 27th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अकोला के बालापुर तहसील के रिधोरा में राष्ट्रीय महामार्ग का निर्माण करने वाली ईगल इन्फ्रा कन्सोरटियम कंपनी के दो कर्मचारियों की हुई मौत के मामले के आरोपी को अगले आठ दिन में गिरफ्तार कर लिया जाएगा। यदि आरोपी गिरफ्तार नहीं होगा तो संबंधित पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। विधान परिषद प्रदेश के श्रम राज्य मंत्री बच्चू कडू ने उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। कडू ने कहा कि आरोपी बिहार का है और वह फरार है। आरोपी को अगले आठ दिन में गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सोमवार को ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिए भाजपा समर्थित सदस्य विनायक मेटे ने अकोला में कर्मचारियों की मौत का मुद्दा उठाया था। इसके जवाब में कडू ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय महामार्ग प्राधिकरण ने अकोला में राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 6 पर अमरावती से चिखली तक के पैकेज 2 के निर्माण कार्य का ठेका ईगल इन्फ्रा कन्सोरटियम कंपनी को दिया है। अकोला में इस कंपनी के टैंक में वेल्डिंग व प्लंबिंगका काम करते समय 24 नवंबर को विस्फोट हो गया था। इस घटना में ठेके पर काम करने वाले दो कर्मचारियों की मौत हुई है जबकि चार कर्मचारी जख्मी हुए हैं। मृत कर्मचारियों के परिजनों को प्रत्येक पांच लाख रुपए की आर्थिक मदद की गई है। इसके अलावा और पांच लाख रुपए की मदद देने का प्रयास किया जा रहा है। जबकि जख्मियों के इलाज के खर्च का वहन ठेकेदार ने किया है। इस दौरान उपसभापति नीलम गोर्हे ने राज्य सरकार को ठेके पर काम करने वाले मजदूरों के लिए महामंडल बनाने के निर्देश दिए हैं। गोर्हे ने कहा कि ठेके पर काम करने वाले कर्मचारियों का शोषण होता है। इससे रोकने के लिए और ठेकेदारों पर नियंत्रण के लिएमहामंडल का निर्माण किया जाना चाहिए। 

 

खबरें और भी हैं...