दैनिक भास्कर हिंदी: भारत के इस गांव के लोग रातोंरात करोड़पति बन गए, लेकिन कैसे?

February 9th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। करोड़पति बनने का सपना हर किसी शख्स का होता है, लेकिन उसके लिए मेहनत करनी पड़ती है। मगर भारत के इस गांव के लोग रातोंरात करोड़पति बन गए। दरअसल, अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में बना 'बोमजा' गांव के लोगों की जमीन को इंडियन आर्मी ने अधिग्रहित कर लिया, जिसके एवज में डिफेंस मिनिस्ट्री की तरफ से हर परिवार को 1-1 करोड़ रुपए से ज्यादा का मुआवजा दिया गया। अब अरुणाचल के बोमजा गांव का नाम भारत के सबसे अमीर गांवों में शुमार हो गया है।

रातोंरात गांव बन गया करोड़पति

अरुणाचल प्रदेश के बोमजा गांव के लोगों को मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने गुरुवार को चेक बांटे। इसके साथ सीएम खांडू ने ट्वीट कर बताया कि बोमजा गांव धनी गांवों की लिस्ट में शुमार हो गया है। इस गांव के 31 परिवारों की 200.056 एकड़ जमीन अधिग्रहण के एवज में डिफेंस मिनिस्ट्री की तरफ से 40.8 करोड़ रुपए का चेक सौंपा। इनमें से 29 परिवारों को 1.09 करोड़ रुपए का चेक दिया गया, जबकि एक परिवार को 2.45 करोड़ और दूसरे परिवार को 6.73 करोड़ रुपए का चेक दिया गया।

 

 


इंडियन आर्मी ने किया है अधिग्रहण

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अरुणाचल प्रदेश के बोमजा गांव की जमीन को इंडियन आर्मी ने अधिग्रहण किया है। बताया जा रहा है कि इस जमीन पर आर्मी तवांग गैरसन की एक और यूनिट बनाना चाहती है, जिसके लिए डिफेंस मिनिस्ट्री ने जमीन के बदले हर परिवार को 1-1 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का मुआवजा दिया है। अरुणाचल के सीएम पेमा खांडू ने इस दौरान डिफेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण को भी धन्यवाद दिया। 

5 साल पहले हुआ था जमीन का अधिग्रहण

बताया जाता है कि बोमजा गांव के परिवारों की जमीन का अधिग्रहण 5 साल पहले हुआ था। इंडियन आर्मी इस गांव में तवांग गैरसन की एक यूनिट बनाना चाहती है और इसी के लिए यहां की जमीन को अधिग्रहित किया गया था। गुरुवार को जब इस जमीन की मुआवजा राशि को बांटा गया, तो लोग काफी खुश दिखे। वहीं अरुणाचल के सीएम ने बताया कि बाकी जमीनों की मुआवजा राशि देने के लिए भी केंद्र सरकार से बात चल रही है। इसके साथ ही उन्होंने काफी लंबे समय से अटकी इस मुआवजा राशि को मंजूरी देने के लिए डिफेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण को भी धन्यवाद दिया।