comScore

बिजली उत्पादन बढ़ने से खत्म हुई कटौती, बावनकुले का दावा

बिजली उत्पादन बढ़ने से खत्म हुई कटौती, बावनकुले का दावा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पिछले पांच वर्षों में बिजली उत्पाद में बढ़ोतरी के चलते महाराष्ट्र बिजली कटौती मुक्त राज्य हो सका है। अखंडित बिजली आपूर्ति से किसानों को कृषि कार्य के लिए प्रतिदिन 8 से 10 घंटे बिजली आपूर्ति की जा रही है। यह कहना है कि राज्य के ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले का। उन्होंने बताया कि 2014-15 में सौर ऊर्जा परियोजना द्वारा करीब 50 मेगावॉट बिजली वृद्धि हुई। कोराडी (नागपुर) में दिसंबर 2015 में 660 मेगावॉट वाला थर्मल पावर स्टेशन शुरु किया गया। इस दौरान चंद्रपुर, परली, कोराडी के पावर प्रोजेक्ट शुरु होने से बिजली उत्पादन क्षमता में 3280 मेगावॉट की बढ़ोतरी हुई। ऊर्जा मंत्री ने बताया कि 20 मई 2019 को बिजली उत्पादन का नया रिकार्ड बना। इस दिन 10034 मेगावॉट बिजली उत्पादन हुआ। उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों के दौरान बिजली के क्षेत्र में कई उल्लेखनीय कार्य हुए। महापारेषण द्वारा 661 अति उच्च दाब उपकेंद्र निर्माण कर बिजली आपूर्ति की क्षमता बढाई गई। 46 हजार किलोमीटर से अधिक बिजली तार बिछाने वाली महापारेषण देश की एक मात्र कंपनी है। इस सरकारी कंपनी ने समुद्र के भीतर भी तार बिछा कर एलिफेंटा गुफा तक बिजली आपूर्ति की है।   

चौहान प्रदेश भाजपा के सह सम्पर्क प्रमुख

उधर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने ओमप्रकाश चौहान को पार्टी का मीडिया सह सम्पर्क प्रमुख नियुक्त किया है। चौहान लंबे समय से भाजपा से जुड़े हुए हैं और प्रदेश भाजपा में मीडिया सम्पर्क के क्षेत्र में कार्यरत रहे हैं। मूलरुप से उत्तर प्रदेश के निवासी चौहान को फिर से मीडिया सह सम्पर्क प्रमुख की जिम्मेदारी सौपी गई है। इसके अलावा श्याम सप्रे और सौमेन मुखर्जी मीडिया को भी सह संपर्क प्रमुख बनाया गया है।

कमेंट करें
KU28S