दैनिक भास्कर हिंदी: फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर लड़कियों को ब्लैकमेल करने वाला गिरफ्तार -  पीड़ितों में नागपुर की भी एक लड़की

April 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। खुद को कास्टिंग डायरेक्टर बताकर लड़कियों से उनकी तस्वीर मंगाने के बाद उन्हें अश्लील बनाकर सोशल मीडिया के जरिए वायरल करने की धमकी देकर पैसे वसूलने वाले एक आरोपी को अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया है। अब तक की छानबीन में आरोपी द्वारा सात लड़कियों को ब्लैकमेल कर पैसे वसूलने की बात सामने आई है। पीड़ित लड़कियों में एक नागपुर की भी रहने वाली है। आरोपी बेहद शातिर था और लड़कियों का धमकाने के बाद अपना मोबाइल फोन बंद रखता था इसलिए उस तक पहुंचने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

गिरफ्तार आरोपी का नाम सिद्धार्थ सरोदे है वह मुंबई के चेंबूर इलाके का रहने वाला है। सरोदे के खिलाफ मुंबई के वर्सोवा पुलिस स्टेशन में एक युवती ने एफआईआर दर्ज कराई थी। सरोदे ने काम दिलाने के बहाने युवती की तस्वीरें ह्वाट्सएप के जरिए मंगाई थी। इसके बाद पिक्सआर्ट नाम के एप की मदद से आरोपी ने युवती का चेहरा नग्न तस्वीर के साथ जोड़ दिया जिसमें वह एक पुरुष के साथ दिख रही थी। यही नहीं आरोपी ने तस्वीर पर युवती का नाम और कॉलगर्ल लिखा। इसके बाद युवती को तस्वीर भेजकर सोशल मीडिया के जरिए वायरल करने की धमकी देते हुए एक लाख रुपए की मांग की थी। अपराध शाखा युनिट 9 में तैनात पुलिस सिपाही प्रफुल्ल पाटील और महिला सिपाही पुजारी ने आरोपी के बारे में जानकारी इकठ्ठा करने के लिए लगातार 12 दिन तक मशक्कत की। इसके बाद उसे दबोच लिया गया।

आरोपी बेहद शातिर था और वह सिर्फ लड़कियों से संपर्क करने के दौरान अपना मोबाइल चालू करता था इसके बाद मोबाइल स्विच ऑफ होने के चलते पुलिस उस तक नहीं पहुंच पा रही थी। सीनियर इंस्पेक्टर महेश देसाई ने बताया कि आरोपी ने नागपुर, पुणे, मुंबई समेत राज्य के विभिन्न हिस्सों में रहने वाली सात लड़कियों की तस्वीरों से छेड़छाड़ कर इसी तरह जबरन पैसे वसूलने की बात स्वीकार की है। पुलिस ने वारदात के मद्देनजर महिलाओं से अपील की है कि वे पूरी सोशल मीडिया पर अनजान लोगों के साथ तस्वीरें साझा करने से बचें।