comScore

जंगल में काटा केक , धूमधाम से मनाया गया नन्हे हाथी 'विश्वा' का बर्थ डे

जंगल में काटा केक , धूमधाम से मनाया गया नन्हे हाथी 'विश्वा' का बर्थ डे

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर।  ताड़ोबा में उस समय माहौल खुशनुमा हो गया जब नन्हे हाथी 'विश्वा' का जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया। बता दें कि विश्वा का जन्म बेहद विपरीत हालातों में हुआ था। डाक्टर ने बड़ी कोशिशों के बाद उसके प्राण बचाए थे। सोमवार को विश्वा एक साल का होने का आनंद मनाते हुए सभी अधिकारी, कर्मचारी व नागरिकों की उपस्थिति में केक काटकर उत्साहपूर्वक जन्मदिन मनाया गया। इस अवसर पर उपस्थित अधिकारियों, कर्मचारियों व नागरिकों को न केवल मिठाई बांटी गई, बल्कि भोजन कराया गया। इस समय ताड़ोबा के क्षेत्र संचालक एन. आर. प्रवीण, सहायक वनसंरक्षक खोरे, आरएफओ राठोड, सोयाम, केसकर, राऊत, आर.जी. मून, वनपाल कोसनकर, वाइल्ड कैप्चर के रोहित ठाकुर, जावडेकर आदि उपस्थित थे। बताया जाता है कि, 'विश्वा' का जन्म हुआ तब उसके बचने की उम्मीद बहुत कम थी। परंतु डॉ.रविकांत खोब्रागडे ने अथक प्रयास कर उसके प्राण बचाए। बता दें कि ताड़ोबा में  हथिनी व उसकी संवारी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है। यहां अब 'विश्वा' एक साल का हो गया है। इसकी खुशी सभी के मन में झलक रही थीं। ताड़ोबा में हाल के समय का यह अनूठा आयोजन बताया गया। 

जब  अचानक दुपहिया के सामने आया तेंदुआ

सोमवार की रात अयप्पा मंदिर के सामने के बगीचे में तेेंदुआ दिखाई देने से परिसर में खलबली मच गयी। यह तेंदुआ एक बाइक सवार के सामने से सड़क पार करते हुए पास के ही बियाबान में चला गया। रविवार की रात जोरदार बारिश होने के बीच आवाजाही रुक गयी थी। ऐसे में दुर्गापुर सब एरिया वेकोलि खदान तथा कालोनी में आने-जानेवाले लोग  इसी मार्ग का प्रयोग करते है, यहां से गुजरने वाले कुछ लोगों को यह तेंदुआ दिखाई दिया। इसके पूर्व भी बाघ-तेंदुए के इस परिसर में दर्शन होते रहे हैं।  काली घनघोर  बरसात की रात में  सुनसान सड़क पर तेंदुआ दिखने से लोग दहशत में आ गए। भगवान का शुक्रगुजार करते हुए लोग अपने गंतव्य तक किसी तरह पहुंचे।

कमेंट करें
04BKZ