comScore

सीएम ने किया रत्नागिरी में विषाणु प्रयोग शाला का उद्धाटन, राज्य में अब 85 कोरोना जांच लैब 

सीएम ने किया रत्नागिरी में विषाणु प्रयोग शाला का उद्धाटन, राज्य में अब 85 कोरोना जांच लैब 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रत्नागिरी के लिए चिकित्सा महाविद्यालय मंजूर करने का आश्वासन दिया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री ने रत्नागिरी के जिला सामान्य अस्पताल में बनाए गए विषाणु प्रयोगशाला का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ई-उद्घाटन किया। प्रयोगशाला बनाने में 1 करोड़ 7 लाख रुपए खर्च हुए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि रत्नागिरी में चिकित्सा महाविद्यालय बनाने की मांग है। चिकित्सा महाविद्यालय के लिए प्रस्ताव तैयार कर सरकार के पास भेजा जाए। सरकार की ओर से इस पर मंजूरी दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि रत्नागिरी में प्रयोगशाला शुरू होने से जिले में कोरोना की जांच को गति मिल सकेगी। जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोतरी हुई है। जिसका फायदा पूरे जिले को मिल सकेगा। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि सरकार ने जालना और रत्नागिरी में प्रयोगशाला बनाने के लिए एक ही दिन मंजूरी दी थी।

रत्नागिरी का प्रयोगशाला रिकार्ड समय पर शुरू हुआ है। इस प्रयोगशाला में कोरोना के अलावा एसआईवी, कैंसर समेत अन्य जांच की सुविधा शुरू हो सकेगी। इससे पहले रत्नागिरी और सिंधुदूर्ग दोनों जिलों के लिए स्थायी प्रयोगशाला बनाने की विशेष मंजूरी मुख्यमंत्री ने दी थी। इसके बाद केवल 14 दिनों में सभी प्रक्रिया पूरी करके प्रयोगशाला बनाया गया है। प्रयोगशाला में उपकरणों के लिए 80 लाख और निर्माण कार्य पर 15 लाख रुपए खर्च हुए हैं। राज्य में लॉकडाउन शुरू होने के समय केवल 2 प्रयोगशाला थे जिसकी संख्या बढ़कर अब 85 हो गई है।

 

कमेंट करें
bSR3y