दैनिक भास्कर हिंदी: एनसीपी से गठबंधन की चाहत में सीएम हिंदूवादियों पर कर रहे कार्रवाई - पूनालेकर का आरोप

September 12th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शरद पवार की राष्ट्रवादी पार्टी से गठबंधन की चाहत में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हिंदूवादियों पर कार्रवाई कर रहे हैं। इसके अलावा शिवसेना को पछाड़ने के लिए उन्होंने संभाजी ब्रिगेड से भी समझौता कर लिया है। भाजपा सरकार भीमा कोरेगांव हिंसा के असली आरोपियों को भी बचा रही है। यह आरोप नालासोपारा विस्फोटक मामले में गिरफ्तार आरोपियों के वकील और हिंदू विधिज्ञ परिषद के अधिवक्ता संजीव पूनालेकर ने लगाया है। 

मंगलवार को मुंबई में पत्रकारों से बातचीत के दौरान पूनालेकर ने दावा किया कि दाभोलकर-पानसरे हत्याकांड में गिरफ्तार किए गए आरोपियों से हिरासत में मारपीट की जा रही है। उन पर दबाव डाला जा रहा है कि वे अपने वकील को मामले का मुख्य सूत्रधार बताएं। साथ ही पुलिस अधिकारी ने मनचाहा बयान न देने पर एक आरोपी की पत्नी से बलात्कार की धमकी भी दी है। पुनालेकर ने कहा कि सरकार को यह पता है कि  पुणे में आयोजित किया जाने वाले सनबर्न फेस्टिवल से हिंदूवादी खुश नहीं थे जबकि सनबर्न के आयोजक उद्योगपति राकांपा प्रमुख शरद पवार के करीबी हैं। इसीलिए पवार को खुश करने के लिए मुख्यमंत्री ने पुलिस वालों को हिंदूवादी कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए।

पुनालेकर ने दावा किया कि सीबीआई अधिकारी नंदकुमार नायर ने दाभोलकर हत्याकांड के आरोपी सचिन अंदुरे की पिटाई की और उनकी पत्नी से बलात्कार की धमकी दी। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र पुलिस के अधिकारी तिरुपति काकडे ने भी अंदुरे को कोल्हापुर पुलिस की हिरासत में पिटाई की धमकी दी। यही नहीं काकडे ने सीबीआई ऑफिस में जाकर राजेश बंगेरा और अमोल काले नाम के आरोपियों को पीटा। मामले में आरोपियों और पुलिस अधिकारियों के नार्को टेस्ट की मांग करते हुए पुनालेकर ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और गृहमंत्री को खत लिखकर मामले की शिकायत की है। हालांकि उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार हिंदूवादियों पर कार्रवाई करने वाले पुलिस अधिकारियों को बढ़ावा देती है। पूनालेकर ने आरोप लगाया कि भीमा कोरेगांव हिंसा के पीछे भी शरद पवार का हाथ था।