दैनिक भास्कर हिंदी: चुनाव से पहले चौकन्ना हुआ आबकारी विभाग, अवैध शराब की इस टोल फ्री नंबर पर करें शिकायत

March 6th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से निपटाने के लिए राज्य उत्पाद शुल्क विभाग (आबकारी) ने कमर कस ली है। विभाग ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि आचार संहिता लागू होने के बाद दूसरे राज्यों होने वाली शराब तस्करी, विभिन्न पार्टियों के कार्यकर्ताओं और शराब बेचने वाली दुकानों पर नजर रखें। अगले एक सप्ताह में चुनाव आचार संहिता लग सकती है। चुनाव के समय उम्मीदवार कार्यकर्ताओं को लुभाने के लिए कई बार शराब बांटते हैं। आसपास के दूसरे राज्यों की तुलना में महाराष्ट्र में शराब ज्यादा मंहगी है। इसलिए अधिकारियों को शक है कि बांटने के लिए दूसरे राज्यों से तस्करी के जरिए शराब लाई जा सकती है। आबकारी विभाग की आयुक्त प्राजक्ता लवंगारे ने बताया कि शराब की तस्करी से राजस्व का बड़ा नुकसान हो सकता है। इस लिए चुनाव के दौरान ज्यादा सतर्कता बरतने का फैसला किया गया है। मतदाताओं और कार्यकर्ताओं के लिए शराब किस दुकान और वाहन से जाती है इस पर भी नजर रखी जाएगी। जरूरत पड़ने ज्यादा कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी। कानून व्यवस्था के मद्देनजर मतदान से 24 घंटे पहले और नतीजों के दिन राज्य में शराब बंदी होगी। इस बारे में जिलाधिकारियों को जानकारी दे दी जाएगी। 

टोल फ्री नंबर पर करें शिकायत

शिकायत मिलने में देरी के चलते कई बार उत्पाद शुल्क विभाग के अधिकारियों के पहुंचने तक शराब विक्रेता और खरीदार सबूत नष्ट कर देते हैं। इसलिए विभाग ने जल्द सूचना पाने के लिए टोल फ्री नंबर 18008333333 शुरू किया है। इसके अलावा 8422001133 नंबर पर ह्वाट्सएप के जरिए भी शिकायत की जा सकेगी। लवंगारे के मुताबिक नियंत्रण कक्ष को निर्देश दिए गए हैं कि वे शिकायतकर्ता की जानकारी गुप्त रखें।